जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
सरकारी सुविधाएं व योजनाओं के लाभ के लिए दिव्यांग बनवा लें UDID Card, नहीं तो बंद हो जाएगी पेंशन
जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी राजेश कुमार नायक ने बताया कि जनपद चन्दौली में सभी दिव्यांगजनों को सूचित किया जाता है कि वह अपना UDID Card जरूर बनवा लें।
 

जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी का फरमान, बिना कार्ड के बंद हो जाएगी पेंशन, नहीं कर पाएंगे निशुल्क यात्राएं, ऐसे बनवाएं अपना कार्ड

 

उत्तर प्रदेश और भारत सरकार के द्वारा दिव्यांग जनों को मिलने वाली योजनाओं और सुविधाओं के लिए अब विशिष्ट दिव्यांग का प्रमाण पत्र (UDID Card)अनिवार्य कर दिया गया है। बिना यूडीआईडी कार्ड के अब दिव्यांगजन उन सेवाओं का लाभ नहीं ले सकते हैं। इसके लिए सभी दिव्यांगों से ऑनलाइन आवेदन पत्र भरने या जिला दिव्यांगजन सशक्तिकरण अधिकारी से संपर्क करने का निर्देश दिया गया है, ताकि वह सरकारी सुविधाओं से वंचित न हो जाएं।

चंदौली जिले के जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी राजेश कुमार नायक ने बताया कि जनपद चन्दौली में सभी दिव्यांगजनों को सूचित किया जाता है कि वह अपना UDID Card जरूर बनवा लें। नहीं तो वह पेंशन व अन्य सुविधाओं से वंचित हो सकते हैं। क्योंकि सरकार ने पेंशन, बसों की यात्रा व अन्य रियायतों को देने के लिए UDID Card को अनिवार्य कर दिया है।


यह है तरीका 

राजेश कुमार ने कहा कि जिले के जो दिव्यांग पेंशन प्राप्त कर रहे हैं, उनमें से बड़ी संख्या में भारत सरकार द्वारा जारी किये जाने वाले विशिष्ट दिव्यांगता प्रमाण पत्र (UDID Card) हेतु आवेदन पत्र ऑनलाइन नहीं किया गया है। ऐसे में सारे लोग पेंशन का लाभ लेने से वंचित हो सकते हैं। ऐसे में उनसे अनुरोध है कि अपने किसी नजदीकी सहज जन सेवा केन्द्र या साइबर कैफे से ऑनलाइन आवेदन पत्र भरने का कष्ट करें।

साथ ही साथ यह भी कहा है कि अगर वह ऐसा करने में असमर्थ हैं तो निःशुल्क UDID Card कार्ड आवेदन कराने हेतु अपने साथ दिव्यांगता प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र ( तहसीलदार द्वारा निर्गत) आधार कार्ड एवं 01 फोटो, जिसमें दिव्यांगता प्रदर्शित हो, हस्ताक्षर नमूना तथा मोबाइल नम्बर के साथ प्रातः 10:00 बजे से सायं 05:00 बजे तक उनके कार्यालय में उपस्थित हो सकते हैं। 

लाभ से हो जाएंगे वंचित

rajesh nayak
जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी 

राजेश कुमार नायक ने कहा कि सभी दिव्यांगजनों के लिय यह कार्ड अत्यन्त आवश्यक है, क्योंकि भविष्य में इस कार्ड के अभाव में दिव्यांगजनों के लिए संचालित योजनाओं के लाभ से वंचित हो सकते हैं।  वर्तमान में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित बसों में निःशुल्क यात्रा के लिए UDID Card को अनिवार्य कर दिया गया है। सभी दिव्यांगजनों से अपील है कि अधिक से अधिक संख्या में आवेदन करायें या कार्यालय में उपस्थित होकर अपने प्रपत्र उपलब्ध कराने का कष्ट करें,  जिससे सभी के यूडीआईडी कार्ड बनवाया जा सकें।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*