जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
नम आखों से दी गयी प्रमुखजी को अंतिम विदाई, हर दल के लोग हुए शामिल
चंदौली जिले के सदर ब्लॉक में प्रमुख की कुर्सी कई सालों तक उनके परिवार के पास रही। यहां पर वर्षों तक उनकी हनक चलती रही। खुद भी लंबे समय तक ब्लाक प्रमुख रहे।
 

पूर्व प्रमुख वीरेंद्र नाथ सिंह का निधन

बीएचयू में उपचार के दौरान ली अंतिम सांस

ऐसे निकली गांव से अंतिम यात्रा 


चंदौली जिले की राजनीति में बड़ी दखल रखने वाले पूर्व प्रमुख वीरेंद्र नाथ सिंह का निधन होने के बाद आज उन्हें जिले में भावभीनी अंतिम विदाई दी गयी। जिला मुख्याल से सटे सदर ब्लाक के जसुरी गांव निवासी वीरेंद्र नाथ सिंह पिछले कुछ महीनों से बीमार चल रहे थे। उन्होंने बीएचयू में उपचार के दौरान अंतिम सांस ली। पूर्व प्रमुख के निधन की निधन की खबर सुनने के बाद से ही उनके घर पर लोगों की भीड़ जुटने लगी थी। हर कोई वहां पर जाकर उन्हें आखिरी विदाई देना चाहता था।

Virendra Nath Singh

आपको बता दें कि जिले में 'प्रमुखजी' के नाम से मशहूर वीरेंद्र नाथ सिंह का चंदौली की राजनीति में बड़ा हस्तक्षेप था। वह खुद तो कभी विधायक, सांसद या मंत्री तो नहीं बन पाए, लेकिन बड़े-बड़े विधायक, सांसद और मंत्री उनका आशीर्वाद लेने के लिए उनके पास आया करते थे। 

चंदौली जिले के सदर ब्लॉक में प्रमुख की कुर्सी कई सालों तक उनके परिवार के पास रही। यहां पर वर्षों तक उनकी हनक चलती रही। खुद भी लंबे समय तक ब्लाक प्रमुख रहे। साथ ही पत्नी, बहू और बेटे को भी ब्लॉक प्रमुख की कुर्सी पर बैठाया। सपा और बीजेपी दोनों दलों में उनकी गहरी पैठ होने के साथ साथ हर दल के बड़े नेताओं से अच्छे संबंध रखा करते थे।

Virendra Nath Singh
आज इनकी अंतिम यात्रा गांव से जिला मुख्यालय होते हुए गंगाघाट तक गयी, जिसके पहले उनके यहां सपा, भाजपा व अन्य दलों के नेताओं व कार्यकर्ताओं ने जाकर अपनी अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इनकी शवयात्रा में शामिल होने के लिए भाजपा विधायक सुशील सिंह भी पहुंचे थे।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*