जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
राम मनोहर लोहिया को याद करने के लिए सपा कार्यालय पर जुटे सपा के नेता
 

आज समाजवादी पार्टी के चन्दौली जिला पार्टी कार्यालय लोहिया भवन पर जिलाध्यक्ष सत्यनरायन राजभर की अध्यक्षता में समाजवादी पुरोधा समाजवादी चिंतक डॉ. राम मनोहर लोहिया की 54वीं पूर्णतिथि उनके तैल चित्र पर पुष्पहार पहनाकर बड़े ही धूमधाम व हर्षोल्लास के साथ मनायी गयी।

 कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष सत्यनरायन राजभर ने कहा कि डॉ राम मनोहर लोहिया का जन्म 23 मार्च 1910 को उत्तर प्रदेश के अयोध्या जनपद के अकबरपुर नामक गांव में हुआ था। उनके पिता का नाम हीरालाल था, जो पेशे से एक अध्यापक थे। उनके माता का नाम चंदा देवी था। राम मनोहर लोहिया के ढाई वर्ष की आयु में उनके माता जी का देहांत हो गया।

Dr Ram Manohar Lohiya
डॉ राम मनोहर लोहिया एक स्वतंत्रता सेनानी, प्रखर समाजवादी और सम्मानित राजनीतिज्ञ थे। राम मनोहर लोहिया ने हमेशा सत्य का अनुकरण किया और आजादी की लड़ाई में अद्भुत काम किए। भारत राजनीति में स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान और उनके बाद ऐसे कई नेता आए, जिन्होंने अपने दम पर राजनीति का रुख बदल दिया। उन्हीं नेताओं में एक थे डॉक्टर राम मनोहर लोहिया। वे अपनी प्रखर देशभक्ति और तेजस्वी समाजवादी विचारों के लिए जाने के और इन्हीं गुणों के कारण अपने समर्थकों के साथ साथ उन्होंने अपने विरोधियों से भी बहुत सम्मान हासिल किया।


स्वतंत्रता आंदोलन में भाग लेने की उनकी बचपन से ही प्रबल इच्छा थी, जो बड़े होने पर भी खत्म नहीं हुई। जब यूरोप में थे तो उन्होंने वहां से एक क्लब बनाया था, जिनका नाम और सोशियल ऑफ यूरोपियन इंडियन रखा था। इसका उद्देश्य यूरोपियन भारतीयों के अंदर भारतीय राष्ट्रवाद के प्रति जागरूकता पैदा करना था।

Dr Ram Manohar Lohiya
इस मौके पर जिला महासचिव नफीस अहमद ने कहा कि आजादी की लड़ाई में अहम रोल निभाने वाले डॉक्टर राम मनोहर लोहिया राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सहयोगी और समाजवादी आंदोलन के अगुआ थे। हम सभी कार्यकर्ताओं को आज उनके विचारों को आत्मसात करने की जरूरत है। डॉक्टर लोहिया संपूर्ण जीवन समाज में व्याप्त ऊंच-नीच जातिवाद को दूर दूर कर सामाजिक समरसता कायम करने में लगा दिया। आज हम को उनके बताए गए रास्ते एवं उनके विचारों पर चलने की जरूरत है।

नेताओं ने कहा कि इनके विचारों से नेता मुलायम सिंह यादव ने उत्तर प्रदेश में सरकार बनाने का काम किया था। आज इन्हीं के विचारों से सीख ले कर हमको बीजेपी सरकार से लड़ना होगा।
समाजवादी विचारों से देश की राजनीति में स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान और स्वतंत्रता के बाद जन चेतना का संचार कर महापरिवर्तन लाने वाले महान नेता डॉ. राम मनोहर लोहिया जी की पुण्यतिथि पर शत् शत् नमन करना हमारा धर्म है।

इस गोष्ठी में
महेश जायसवाल, जितेंद्र कुमार एडवोकेट, पूर्व विधायक, सुधाकर कुशवाहा, राजनाथ यादव, प्रदीप बनवासी, चंद्रभानु यादव, त्रिवेणी खरवार, रामजन्म यादव, राम सिंह चौहान, मुन्नी लाल मौर्या, उपेंद्र कुमार फौजी, रघुनाथ यादव, दिलीप पासवान, महमूद आलम, मुश्ताक़ खान, गुलशन गायक, संतोष पटेल, मुकेश यादव, अनिल यादव, राम मूरत सोनकर शामिल थे।