जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
हरि ओम सेवा ITI कॉलेज में एक दिवसीय कार्यशाला, उद्योग लगाने के बारे में दी गयी जानकारी
प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत उद्यमिता विकास संस्थान व खादी ग्रामोद्योग आयोग के संयुक्त तत्वावधान में हिनौता जगदीशराय स्थित हरि ओम सेवा आईटीआई कॉलेज में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया,
 

हरि ओम सेवा ITI कॉलेज में एक दिवसीय कार्यशाला

रोजगार वाले उद्योग धंधों के बारे में दी गयी जानकारी

इन अफसरों व विशेषज्ञों ने दिए टिप्स

चंदौली जिले में प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत उद्यमिता विकास संस्थान व खादी ग्रामोद्योग आयोग के संयुक्त तत्वावधान में हिनौता जगदीशराय स्थित हरि ओम सेवा आईटीआई कॉलेज में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसमें वक्ताओं ने आईटीआई के हुनरमंद प्रशिक्षण ले रहे छात्रों को ग्रामीण तथा शहरी इलाकों में रोजपरक 10 लाख से 25 लाख तक के छोटे उद्योग धंधे, योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई।

 जिला उद्योग केंद्र के उपायुक्त गौरव मिश्रा ने कहा कि स्थानीय स्तर पर प्रधानमन्त्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत स्वरोजगार के बहुत अवसर है। आईटीआई के हुनरमंद छात्र अपने रुचि के अनुसार आनलाइन आवेदन कर कर सकते हैं। जिला उद्योग केन्द्र कार्यालय चन्दौली सदैव मार्गदर्शन के लिए तैयार हैं। 

उपायुक्त उद्योग गौरव मिश्रा ने कहा कि छात्रों को अडिग होकर अपने व्यवसाय को चुनने चाहिए। अंत तक उसे कड़ी मेहनत कर मुकाम तक पहुंचना चाहिए। तभी विभाग से लोन लेकर खुद के साथ साथ अन्य को रोजगार दे सकते हैं। 

इस मौके पर खादी ग्रामोद्योग आयोग वाराणसी के सहायक निदेशक एमआर प्रजापति ने कहा कि भारत में बनने वाले खादी वस्त्र उद्योग लगाकर हुनर मंद बेरोजगार छात्र खुद रोजगार स्थापित कर अपनी आय के साथ साथ दूसरे को भी रोजगार मुहैया करा सकते हैं। प्रजापति ने कहा कि किसी भी वर्ग की महिलाओं, ओबीसी, एससी एसटी वर्ग को उद्योग लगाने पर सरकार 35 फीसदी तथा सामान्य वर्ग के लिए 25 फीसदी अनुदान देती है। 


उद्यमिता विकास संस्थान के परियोजना प्रभारी आरबी मिश्रा ने कहा कि किसी कार्य को करने के हमें लक्ष्य बनाना जरूरी होता है। बिना लक्ष्य के हम किसी भी क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन नहीं कर सकते हैं। इसलिए सबसे पहले छात्रों को अपने रोजगार के लिए प्रोजेक्ट तैयार कर जिला उद्योग केंद्र, खादी ग्रामोद्योग बोर्ड व अन्य विभाग से स्वीकृत कर बैंक के माध्यम से लोन लेकर निष्ठापूर्वक कार्य करते हुए रोजगार को बड़े पैमाने पर धीरे धीरे विकसित कर सकते हैं। 

खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के एडीओ गौतम त्रिपाठी ने भी खादी ग्रामोद्योग से संबंधित उद्योग स्थापित करने के लिए ऑनलाइन वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर विभाग में जमा कर बैंक से लोन लेकर अपनी स्वरोजगर को आगे बढ़ा सकते हैं। 

आईटीआई कॉलेज के प्रबंधक संतोष कुमार तिवारी ने सभी अतिथियों का धन्यवाद व आभार प्रकट करते हुए कहा कि ऐसे सेमिनार आयोजित कर छात्रों को जागरूक कर स्वरोजगार के अवसर सृजित किया जा सकता है जिससे छात्र अपने जीवन यापन के साथ साथ दूसरे श्रमिकों को भी रोजगार देकर रोजी रोटी दे सकते हैं। 

कार्यक्रम का संचालन कर रहे आईटीआई कॉलेज के प्रधानाचार्य सत्येंद्र कुमार मिश्र ने कहा कि आईटीआई से हुनरमंद सभी छात्रों को सरकारी नौकरी नहीं दी जा सकती है। ऐसे में तकनीकी शिक्षा प्राप्त कर छात्र अपनी क्षेत्रीय व ग्रामीण मांगों के अनुसार रुचिकर प्रोजेक्ट बनाकर खुद उद्योग धंधे, कलपुर्जे, वर्कशॉप आदि खोलकर जीविकोपार्जन किया जा सकता है और राष्ट्र निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। साथ में लोगो को रोजगार दे सकते हैं। 

इस मौके पर उप प्रधानाचार्य श्रीनारायण त्रिपाठी ने सभी अतिथियों का माल्यार्पण कर स्वागत किया और धन्यवाद ज्ञापित किया। इस मौके पर आईटीआई कॉलेज के अनुदेशक छात्र व कर्मचारी गण मौजूद रहे।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*