जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
अब 6 अक्टूबर को होगा गोधना गांव के कोटेदार का सेलेक्शन, बैठक में हंगामा
 

चंदौली जिले के गोधना गांव में सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान के आवंटन की कार्यवाही अब 6 अक्टूबर के लिए टाल दी गयी है। बताया जा रहा है कि मंगलवार को गांव स्थित काली मां के मंदिर में होने वाली खुली बैठक में कागजी कार्रवाई पूरी न होने के कारण इसे टाला गया है और विधिवत सेलेक्शन के लिए आगे की तारीख तय की गयी है। 

कहा जा रहा है कि मौके पर ग्रामीणों की कम उपस्थिति व दुकान के लिए आवेदन करने वाले दावेदारों के पक्ष के लोगों के हंगामा करने के कारण इस रद्द करना पड़ा है। एडीओ पंचायत अरुण सिंह ने बैठक की नई तिथि छह अक्टूबर को निर्धारित की है।

 गांव में सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान को लेकर मंगलवार को काली मां के मंदिर पर खुली बैठक का आयोजन किया गया था। बैठक में दुकान के लिए दो दावेदार राम अवध सोनकर व आशीष गोड़ सामने आए। मौके पर मौजूद एडीओ पंचायत व ग्राम विकास अधिकारी लाल अमरेंद्र सिंह ने ग्राम प्रधान की उपस्थिति में कार्रवाई शुरू की। कुछ ही देर में एक पक्ष के लोग ग्रामीणों की संख्या कम होने की बात कहकर हंगामा करने लगे। वहीं दूसरे पक्ष के लोगों का कहना था कि 20 प्रतिशत से ज्यादा ग्रामीणों की उपस्थिति होने के कारण दुकान का चुनाव होना चाहिए।

ऐसी हालत में दोनों पक्ष के लोगों को हंगामा करते देख एडीओ पंचायत ने बैठक को निरस्त कर आगामी छह अक्टूबर को खुली बैठक करने की घोषणा की। बताया कि कागजी कार्यवाही पूरी नहीं होने से दुकान आवंटन की खुली बैठक निरस्त कर दिया गया है। छह अक्टूबर को बैठक कर दुकान का आवंटन किया जाएगा। 

इस मौके पर ग्राम प्रधान दीनदयाल गोंड, पूर्व प्रधान विरेंद्र बिंद, सुरेंद्र पाठक, ताबू, सतीश, राकेश, राघवेंद्र पाठक, रामजन्म बिंद, बबलू यादव रहे।