जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
चिरईगांव की जनचौपाल में सपा सरकार बनने पर किसानों व नौजवानों की हर समस्या दूर करने का आश्वासन
चंदौली जिले की सैयदराजा विधानसभा के चिरईगांव में शनिवार को सपा के राष्ट्रीय सचिव मनोज सिंह डब्लू ने चौपाल लगाई।
 

चिरईगांव की जनचौपाल

सपा के राष्ट्रीय सचिव मनोज सिंह डब्लू की चौपाल

किसानों व नौजवानों की समस्या दूर करने का आश्वासन


 

चंदौली जिले की सैयदराजा विधानसभा के चिरईगांव में शनिवार को सपा के राष्ट्रीय सचिव मनोज सिंह डब्लू ने चौपाल लगाई। इस दौरान उन्होंने गांव के किसानों, नौजवानों व आम ग्रामीणों की समस्याओं से रूबरू हुए। वहीं किसान हितों को लेकर चर्चा करते हुए तमाम तरह के वायदे किए और भाजपा की जगह समाजवादी पार्टी की सरकार बनाने की अपील की।

Manoj Singh W Jan chaupal

समाजवादी पार्टी ने अपने कार्यकाल के दौरान किसानों को उन्नतशील व प्रगतिशील किसान बनाने की दिशा में आगे बढ़ाया। पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने मंडियों तक गांव के किसानों की पहुंच बनायी। गांवों से मंडियों तक के रास्तों को सुदृढ़ किया। वहीं धान व गेहूं की खरीद को सरल बनाने का काम किया गया। लेकिन सत्ता परिवर्तन के बाद खेती-किसानी को समृद्ध बनाने की दिशा में चल रही योजनाओं व परियोजनाओं पर योगी सरकार ने ताला लगाने का काम किया। 

Manoj Singh W Jan chaupal


कहा कि पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने मंडियों तक गांव के किसानों की पहुंच बनायी। गांवों से मंडियों तक के रास्तों को सुदृढ़ किया, ताकि किसान कम समय में अपनी फसल के साथ मंडी पहुंच सके। किसानों को नवीनतम जानकारी से लैस करने का प्रबंध किया। अत्याधुनिक कृषि यंत्रों के इस्तेमाल के लिए सरकार ने कई छूट दिए। यहां तक की धान व गेहूं की खरीद को सुलभ व सरल बनाने का काम अखिलेश यादव की सरकार में हुआ। कहा कि खेतों की सिंचाई का रेट सपा सरकार में माफ हुआ। समाजवादी पार्टी के काम से उसके किसान हितैषी होने के दावे को पुष्ट करती है।

Manoj Singh W Jan chaupal

वहीं दूसरी ओर भाजपा सरकार ने देश के किसानों के साथ बड़ा झूठ बोला। भाजपा ने वादा किया था कि वह किसानों की आय दोगुनी करेगी, लेकिन आज महंगाई को इस स्तर पर बढ़ा दिया है कि खेती की लागत दोगुनी से भी अधिक हो गयी है। बावजूद इसके किसानों को उपज का उचित मूल्य नहीं मिल पा रहा है, जो दुर्भाग्यपूर्ण है।  

इस मौके पर अंगद यादव, दशरथ सिंह, मृत्युंजय सिंह, जोगिंदर सिंह, विजयमल बिन्द, अमित उपाध्याय, लल्लन बिन्द, विनोद शर्मा, संतोष उपाध्याय आदि शामिल रहे। अध्यक्षता सुमंत सिंह व संचालन नंदकुमार राय ने किया।