जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
माधोपुर का अजय भी था फेक करेंसी के कारोबार में शामिल, पुलिस ने नोटों के साथ दबोचा
चंदौली जिले की बलुआ थाना पुलिस ने जॉली नोटों के कारोबार में शामिल चंदौली जिले के एक युवक को गिरफ्तार किया है और उसके पास से 12 हजार से अधिक फेक करेंसी भी बरामद की है
 

पुलिस ने सूचना पर उसको ₹12,910 की जाली नोटों के साथ गिरफ्तार किया

अजय नारायण सिंह उर्फ चंपू के ऊपर चंदौली जनपद में 8 मुकदमे दर्ज हैं

चंदौली जिले की बलुआ थाना पुलिस ने जॉली नोटों के कारोबार में शामिल चंदौली जिले के एक युवक को गिरफ्तार किया है और उसके पास से 12 हजार से अधिक फेक करेंसी भी बरामद की है। बताया जा रहा है कि इसके पहले गिरफ्तार किए गए बिहार के शातिर अंतर्प्रांतीय एक करेंसी चलाने वाले गिरोह से पूछताछ के बाद मिली जानकारी पर पुलिस ने इस वांछितों की श्रेणी में रखा था। मुखबिर की सूचना पर इसे गिरफ्तार किया गया है।

 Fake Currency

 बताया जा रहा है कि यह जॉली नोटों के मामले में वांछित की चंदौली जिले की बलुआ पुलिस को तलाश भी थी। बताया जा रहा है कि पुलिस को मुखबिर के नाम पर सूचना मिली थी कि बाबा कीनाराम मठ के पास अजय नारायण सिंह उर्फ चंपू मौजूद है। यह धीना थाना क्षेत्र के माधोपुर गांव का रहने वाला है। पुलिस ने सूचना पर उसको ₹12,910 की जाली नोटों के साथ गिरफ्तार किया है। 

गिरफ्तारी के बाद पुलिस के द्वारा की गयी पूछताछ में अजय नारायण सिंह उर्फ चंपू ने बताया कि भारतीय नोटों की फेक करेंसी के द्वारा वह अपनी आजीविका चलाता है। वह इन नोटों को बिहार से लेकर उत्तर प्रदेश राज्य में सप्लाई करने का काम करता है। इसके बदले उसे कुछ कमीशन मिलता है। पुलिस ने इसकी गिरफ्तारी की जानकारी देते हुए बताया कि अजय नारायण सिंह उर्फ चंपू के ऊपर चंदौली जनपद में 8 मुकदमे दर्ज हैं तथा एक मुकदमा जमानिया थाने में भी दर्ज है।

 इस को गिरफ्तार करने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक अनिल यादव, कांस्टेबल पवन कुमार, सतीश यादव और महिला आरक्षी सुधा यादव शामिल थे।