जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
फांसी के फंदे पर झूल कर युवक ने दे दी जान, प्रेम प्रसंग की हो रही है चर्चा
मजदूर फारुख का पुत्र आजाद इन दिनों पेंटिंग का काम करता था। चर्चा है कि प्रेम प्रसंग के चक्कर में उसने फांसी के फंदे पर झूल कर अपनी इह लीला समाप्त कर ली।
 

सैदूपुर कस्बे में आजाद ने लगायी फांसी

प्रेम प्रसंग के चक्कर में मौत की हो रही चर्चाएं

दफनाने को लेकर भी हुआ विवाद

चंदौली जिला के चकिया कोतवाली अंतर्गत सैदूपुर कस्बा में बीती रात आजाद (24 वर्ष) ने फांसी के फंदे पर झूल कर अपनी ईह लीला समाप्त कर ली। दूसरे दिन घटना की जानकारी होने पर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम हेतु जिला अस्पताल भेज दिया। युवक की मौत को लेकर कस्बा में तरह-तरह की चर्चाएं व्याप्त है।

 बताते चलें कि मजदूर फारुख का पुत्र आजाद इन दिनों पेंटिंग का काम करता था। चर्चा है कि प्रेम प्रसंग के चक्कर में उसने फांसी के फंदे पर झूल कर अपनी इह लीला समाप्त कर ली। घटना के बाद शुक्रवार की सुबह परिजन उसके शव को बसाढी गांव के कब्रिस्तान में दफनाने के लिए ले जा रहे थे, मगर बिरादरी के ही कुछ लोगों ने शव को कब्रिस्तान में दफनाने से रोक दिया।

इसके बाद मामला चकिया कोतवाली पहुंचा तो पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया और अंत्य परीक्षण हेतु उसे जिला अस्पताल भेज दिया। जबकि आजाद की मौत को लेकर परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।

 इस संबंध में कोतवाल राजेश यादव ने बताया कि आजाद के मौत को लेकर छानबीन की जा रही है और मृतक के शव को पीएम के लिए भेजा जा रहा है। रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चल पाएगा।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*