जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime

नकली शराब बनाने वाले दो सगे भाईयों को आबकारी निरीक्षक ने किया गिरफ्तार

इलाके के आबकारी निरीक्षक हमराहियों के साथ शराब की दुकानों का निरीक्षण करने निकले थे।उसी समय उनको सुचना मिली की दो युवक नकली शराब बनाने के लिए जा रहे हैं।
 

पहले भी जेल जा चुके हैं दोनों भाई

शराब बनाने का करते हैं पुराना धंधा

चंदौली जिले के शहाबगंज इलाके में  आबकारी निरीक्षक उमेश द्विवेदी ने शनिवार को सेमरा यात्री प्रतीक्षालय के पास से नकली शराब  बनाने वाले दो अभियुक्तों उपकरण के साथ गिरफ्तार किया। अभियुक्तों के खिलाफ स्थानीय थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया।

बताया जा रहा है कि इलाके के आबकारी निरीक्षक हमराहियों के साथ शराब की दुकानों का निरीक्षण करने निकले थे।उसी समय उनको सुचना मिली की दो युवक नकली शराब बनाने के लिए जा रहे हैं। दोनों इस समय सेमरा चौमुहानी के पास यात्री प्रतीक्षालय पर है। सूचना के आधार पर आबकारी टीम ने पहुंच कर मोटरसाइकिल के साथ खड़े युवकों को पकड़ लिया।

दोनों की तलाशी लेने पर 112 क्यूआरकोड, 220 रुपया नगद, एक मोटरसाइकिल यूपी 67एडी0507 और उसकी डिग्गी से 205 ढक्कन बरामद हुए हैं, जिस पर लार्डस डिस्टलरी लिमिटेड गाजीपुर अंकित पाया गया है।

गिरफ्तार अभियुक्त  मनोज जायसवाल पुत्र स्व. मोती और विजय जायसवाल पुत्र स्व. मोती निवासी तियरा, थाना शहाबगंज के बताए गए हैं। दोनों भाई नकली शराब बनाकर बेचने का कार्य काफी दिनों से करते आ रहे हैं। पूर्व में भी यह लोग शराब बनाने व तस्करी करने के आरोप में जेल जा चुके हैं। अभियुक्त पर धारा 259, 260, 419, 420, 467, 468 के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया।

 गिरफ्तारी टीम में आबकारी सिपाही सुशील कुमार कन्नौजिया, इमरान मसूद,अरुणेश चौधरी शामिल रहे हैं।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*