जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
ड्राइवर के हत्या के गवाह पर जानलेवा हमला, पिस्टल लूट की नहीं सुनी जा रही फरियाद
चंदौली जिले के धीना थानाक्षेत्र के आलमखातोपुर निवासी यशवंत सिंह यादव ने शनिवार को पुलिस लाइन में एसपी अंकुर अग्रवाल से मुलाकात करके अपनी शिकायत देते हुए कहा कि गांव के ही लोगों ने उनसे मारपीट करके लाइसेंसी पिस्टल लूट लिया है
 

सत्यपाल यादव धीना थाने का गैंगेस्टर का आरोपी है

थानेदार ने नहीं सुनी फरियाद


चंदौली जिले के धीना थानाक्षेत्र के आलमखातोपुर निवासी यशवंत सिंह यादव ने शनिवार को पुलिस लाइन में एसपी अंकुर अग्रवाल से मुलाकात करके अपनी शिकायत देते हुए कहा कि गांव के ही लोगों ने उनसे मारपीट करके लाइसेंसी पिस्टल लूट लिया है। आरोपी पूर्व में गैंगेस्टर का आरोपी बताया जा रहा है। 

यशवंत सिंह यादव ने कहा कि लोकल थाने में मामला दर्ज कराने गया तो धीना थानाध्यक्ष ने गुहार सुनने के बजाय थाने से भगा दिया। इससे पहले वह एडीजी, आईजी को प्रार्थना पत्र देकर मामले की जांच और मुकदमा दर्ज कराने की गुहार चुके हैं। जब कुछ नहीं हुआ को पुलिस अधीक्षक से शिकायत की है।

शिकायतकर्ता यशवंत सिंह यादव ने बताया कि 5 अप्रैल को उनके साथ मार पीटकर गांव के ही लक्ष्मण यादव और सत्यपाल यादव ने उनकी लाइसेंसी पिस्टल लूट ली है, जबकि सत्यपाल यादव धीना थाने का गैंगेस्टर का आरोपी है और गैंग बनाकर गैर कानूनी कृत्य करते है। बताया कि वर्ष 2010 में उनके उपर जानलेवा हमला हुआ था। जिसमें उनके वाहन चालक की मौके पर हत्या कर दी गई। इसी मामले में मैं कोर्ट में गवाह हूं। इसी वजह से लोग उनसे खुन्नस रखते हैं।

थानेदार ने नहीं सुनी फरियाद

पीड़ित ने बताया कि वह जब मामले को लेकर धीना थाने में गए तो थानाध्यक्ष के द्वारा उनकी फरियाद को नहीं सुना गया। बल्कि जबरदस्ती थाने से बाहर भेज दिया। इससे नाखुश होकर न्याय की गुहार लगाते हुए एडीजी और आईजी को प्रार्थना पत्र दे चुका है। बताया कि एसपी ने उन्हें इस बात का भरोसा दिया है कि सीओ स्तर के अफसर से मामले की जांच कराई जाएगी। इसके बाद दोषी पाए जाने पर संबंधित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा।