जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
आज है मुख्य छठ पूजा, भूलकर भी न करें ये गलतियां
कार्तिक मास शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि 8 नवंबर से छठ का पावन पर्व आरंभ हो चुका है। 10 नवंबर यानि आज षष्ठी तिथि पर छठ का मुख्य पूजन और अर्घ्य दिया जाएगा।
 

आज है मुख्य छठ पूजा

भूलकर भी न करें ये गलतियां
 

कार्तिक मास शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि 8 नवंबर से छठ का पावन पर्व आरंभ हो चुका है। 10 नवंबर यानि आज षष्ठी तिथि पर छठ का मुख्य पूजन और अर्घ्य दिया जाएगा। इस दिन हर ओर आस्था से सराबोर वातावरण दिखाई देता है। चार दिनों तक चलने वाले छठ पर्व में यह सबसे महत्वपूर्ण दिन होता है। छठ अत्यंत ही कठिन व्रत होता है। इसके नियम पूजन अनुष्ठान करते समय विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है। कल छठ का मुख्य पर्व है ऐसे में आपको कुछ बातें ध्यान में रखना चाहिए और इन गलतियों को करने से बचना चाहिए।


छठ पूजा के दौरान न करें ये गलतियां-


छठ पर्व में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए। किसी पूजा के सामान या फिर प्रसाद को बिना धोए हाथों से न छुएं।
 
सूर्य को अर्घ्य देने के लिए प्लास्टिक, चांदी या स्टील के बर्तन का प्रयोग न करें। इस बात का ध्यान रखें कि जो गिलास या लोटा आप घर में प्रयोग करते हैं उससे भूलकर भी अर्घ्य न दें।
 
व्रत रख रहे लोगों को तन के साथ मन की शुद्धता रखना भी आवश्यक होता है इसलिए भूलकर भी किसी के लिए अपशब्दों का प्रयोग न करें और न ही किसी के लिए दुर्भावना रखें।
 
छठ पूजा के दौरान सात्विकता का विशेष महत्व होता है इसलिए घर में किसी प्रकार से तामसिक गुणों वाली चीजों का प्रयोग न करें और न ही ऐसी चीजों को घर में रखें। यहां तक कि घर में लहसुन प्याज तक न रखें।

जब तक छठ पर्व का पूरी तरह समापन न हो जाए तब तक किसी को भी प्रसाद को जूठा न करने दें। 

सप्तमी तिथि को उगते सूर्य को अर्घ्य देने के बाद व्रत का पारण किया जाता है इसलिए इससे पहले भूलकर भी कुछ न खाएं और न ही कुछ पिएं।