जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
बच्चा चोरी की झूठी अफवाहों को लेकर थानाध्यक्ष की पहल, बच्चों व अभिभावकों संग की गोष्ठी
वहीं विद्यालय में उपस्थित बच्चों व अभिभावकों को संबोधित करते हुए कहा कि पुलिस जनता की मित्र है। इसलिए कभी भी कोई परेशानी होने पर बिना संकोच के पुलिस को सूचित करें।
 

चन्दौली जिले के बबुरी थाना क्षेत्र पांडेयपुर स्थित सरस्वती ज्ञान निकेतन स्कूल मे गुरूवार को बच्चा चोरी की झूठी अफवाहों व लोगों की सुरक्षा को लेकर थानाध्यक्ष बबुरी अतुल कुमार प्रजापति ने बच्चों व अभिभावकों संग गोष्ठी की और सभी जरूरी जानकारियां दीं।

बताते चलें कि लोगों को जागरूक  करने के लिए थानाध्यक्ष बबुरी अतुल कुमार प्रजापति एक के बाद एक विद्यालयों में जाकर बच्चों व अभिभावकों संग बैठक कर अफवाहों से दूर रहकर सजग और सतर्क रहने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। वहीं विद्यालय में उपस्थित बच्चों व अभिभावकों को संबोधित करते हुए कहा कि पुलिस जनता की मित्र है। इसलिए कभी भी कोई परेशानी होने पर बिना संकोच के पुलिस को सूचित करें। पुलिस 24 घंटे हर संभव मदद करने के लिए तैयार है। 

इसके अलावा बच्चों को यातायात नियमों की सीख देने व उसका पालन करने के लिए शिक्षकों को प्रेरित किया। अभिभावकों से कहा कि स्कूल जाते समय बच्चों को सुरक्षित विद्यालय तक छोड़ेने व छुट्टी होने पर समय से सुरक्षित घर लाने की जिम्मेदारी अभिभावकों की है। आगे बच्चों का उत्साह बढ़ाते हुए कहा कि प्रत्येक बच्चों के जेब में विद्यालय का पहचान पत्र, अभिभावक का मोबाइल नंबर, ब्लड ग्रुप की जानकारी अवश्य रखें, ताकि आपातस्थिति में तत्काल सहायता की जा सके। 

बच्चों को स्कूल लाने व ले जाने वाले वाहन चालक, हेल्पर की हमेशा पहचान रखें। उसका मोबाइल नंबर एवं पूरा पता अपने पास रखें। 

वहीं छात्र दिव्यांश चौबे, लक्षिका जायसवाल, प्रिंस कुमार आदि बच्चों ने थानाध्यक्ष को कविताएं भी सुनाई। वहीं बच्चों से वार्तालाप के दौरान थानाध्यक्ष भाव विभोर होते हुए कहा कि इन बच्चों से वार्तालाप कर अपने बचपन की याद आ गई। संजना,  मनीषा, अंजलि, मतंसा, आर्यन, मंजीत आदि बच्चों ने पुष्प देकर थानाध्यक्ष का स्वागत भी किया।


 इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य अंजनी कुमार चौबे ,सत्यम जयसवाल, काजल जायसवाल, ज्योति,अंजू ,शबाना, गुलाब जायसवाल सहित शिक्षक, शिक्षिका व अभिभावक गण उपस्थित रहे।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*