जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
बसपा नेता के आवास पर ऐसे मनाया गया ईद उल अजहा का त्यौहार, एक दूसरे को दी गयी बधाई
बकरीद के दिन जिस बकरे की कुर्बानी दी जाती है उसे तीन भागों में बांटा जाता है। इसमें एक हिस्सा रिश्तेदारों, दोस्तों और पड़ोसियों को दिया जाता है। वहीं एक हिस्सा गरीबों और जरूरतमंदों को दिया जाता है और तीसरा परिवार के लोगों को दिया जाता है। 
 

बसपा नेता इरशाद अहमद बबलू के यहां पहुंचे लोग

दी ईद उल अजहा की मुबारकबाद

जरूरतमंदों की सहायता की प्रेरणा देता है त्यौहार

चंदौली जिले के मुगलसराय स्थित बसपा नेता इरशाद अहमद बबलू के आवास पर रविवार को ईद उल अजहा मिलन समारोह का हुआ आयोजन। कार्यक्रमों में एक-दूसरे को ईद उल अजहा की मुबारकबाद भी दी गयी।

आयोजन में इरशाद अहमद ने कहा कि इस्लाम धर्म के प्रमुख पैगंबरों में से हजरत इब्राहिम एक थे। इन्हीं की वजह से कुर्बानी देने की परंपरा शुरू हुई। बकरीद के दिन जिस बकरे की कुर्बानी दी जाती है उसे तीन भागों में बांटा जाता है। इसमें एक हिस्सा रिश्तेदारों, दोस्तों और पड़ोसियों को दिया जाता है। वहीं एक हिस्सा गरीबों और जरूरतमंदों को दिया जाता है और तीसरा परिवार के लोगों को दिया जाता है। 

Eid Ul Ajaha 2022

 इरशाद अहमद ने कहा कि कुर्बानी के इस दिन गरीबों को दान दें और जरूरतमंदों की मदद करें। साथ में मौजूद चंद्रेश्वर जायसवाल ने अपने संदेश में कहा कि ईद-उल-अजहा त्याग और ईश्वर के प्रति समर्पण का त्यौहार है। यह मानव कल्याण, सेवा और जरूरतमंदों की सहायता की प्रेरणा देता है।

Eid Ul Ajaha 2022


मिलन समारोह के मौके पर बसपा पूर्व जिला अध्यक्ष प्रदीप कुमार, चंदेश्वर जयसवाल, सपा नेता चंद्रशेखर यादव, कांग्रेस नेता तौसीफ अहमद, राकेश बहादुर सिंह, रामजी गुप्ता, अर्शी सलाम, महेंदर, सैफ, प्रिंस कपूर , चंदन कुमार, सरदार कुलदीप सिंह और तमाम लोग उपस्थित रहे।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*