जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
मुगलसराय में मजदूर दिवस पर निकला जुलूस, जानिए कैसे कैसे लगे नारे
चंदौली जिले के मुगलसराय में मजदूर दिवस के 136 वीं वर्षगांठ पर मई दिवस को याद करते हुए वामपंथी मजदूर संगठनों ने सैकड़ों की संख्या में रोडवेज बस स्टैंड से सब्जी मंडी तक जुलूस निकाला
 
आम गरीबों की समस्याओं के लेकर तमाम तरह की मांगों को रखते हुए नारे लगाए

चंदौली जिले के मुगलसराय में मजदूर दिवस के 136 वीं वर्षगांठ पर मई दिवस को याद करते हुए वामपंथी मजदूर संगठनों ने सैकड़ों की संख्या में रोडवेज बस स्टैंड से सब्जी मंडी तक जुलूस निकाला। इस दौरान मजदूरों के साथ साथ आम गरीबों की समस्याओं के लेकर तमाम तरह की मांगों को रखते हुए नारे लगाए।

 इस जुलूस में 1886 के शिकागो के अमर शहीदों को लाल सलाम, शिकागो के शहीद अमर रहे, साम्राज्यवाद मुर्दाबाद ,बेतहाशा बढ़ती महंगाई पे रोक लगाओ, डीजल -पेट्रोल के बढ़े हुए दाम वापस लो, सार्वजनिक संस्थानों का निजीकरण वापस लो ,शहीदों तेरे अरमानों को मंजिल तक पहुंचाएगे, काम के घण्टे 8 का अधिकार सुरक्षित करो, मजदूरों की मजदूरी 600 रुपये प्रतिदिन लागू करो.. आदि नारे लगा रहे थे। 

यह जुलूस वापस रिक्सा स्टैण्ड पहुंचकर जनसभा में बदल गया और लोगों ने मजदूरों की मांगों पर जमकर चर्चा की। साथ में आज के परिवेश में गरीब मजदूरों के सामने उभर रही चुनौतियों पर चर्चा की।

  सभा को सम्बोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि आज मई दिवस को याद करते हुए हम लोगों को कसम खाने की जरूरत है कि साम्राज्यवाद परस्त मोदी सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों के खिलाफ सड़को पे जनान्दोलन को मजबूत करेंगे। यह इसलिए करना होगा कि जब संसद जनता की हिफाजत करने में कमजोर हो, तब सड़क पर जनता एकताबद्ध होकर आंदोलन के जरिए ही हमारे हकों की हिफाजत कर सकती है।

सभा को कन्हैया यादव, रामदुलार, ठाकुर प्रसाद, लालजी एडवोकेट, मोहनलाल बरनवाल, लालचन्द, अनिता कुमारी, मिठाईलाल, जालन्धर इत्यादि ने सम्बोधित किया। सभा की अध्यक्षता वरिष्ठ कामरेड सत्यनारायण सिंह चौहान व संचालन कामरेड रामप्यारे ने किया।