जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
जानिए नौगढ़ में SDM ने मोबाइल पर किस हेड मास्टर की लगायी क्लास, 7 दिन के बाद पहुंचा भगोड़ा अध्यापक
नौगढ़ में मनमानी करते हैं अध्यापक, मोबाइल पर उपजिलाधिकारी ने दी चेतावनी, मिल रही थी ऐसी शिकायत
 

नौगढ़ में प्राथमिक विद्यालय अमदहां पर...करे- कोई, भरे- कोई वाली कहावत चरितार्थ हुई। सहायक अध्यापक राजेश यादव के गायब होने पर एसडीएम डॉ अतुल गुप्ता ने हेड मास्टर नीरज सिंह को मोबाइल पर ही क्लास लगा दी 


चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ में परिषदीय विद्यालयों के शिक्षकों के समय से विद्यालय आने का फरमान बेअसर साबित हो रहा है जबकि उनकी इस  हरकत से ग्रामीण भी नाराज है। बुधवार को यह नाराजगी हकीकत में बदल गई।


आपको बता दें कि  नौगढ़ इलाके के प्राथमिक विद्यालय अमदहां में बुधवार को सुबह देर से आए शिक्षकों को लेकर ग्रामीण नाराज हो उठे और उन्होंने गेट के बाहर नारेबाजी के बाद इसकी जानकारी बीएसए को मोबाइल पर देने के साथ ही जिलाधिकारी को भी अवगत कराया।

 एसडीएम डॉ अतुल गुप्ता ने शिकायत के बाद मोबाइल पर ही हेड मास्टर नीरज सिंह को काफी फटकारा। यहां 27 अप्रैल से गायब सहायक अध्यापक राजेश यादव के पहुंचने पर प्रधान प्रतिनिधि जिलाजीत सिंह यादव ने चेताया कि अगर उन्होंने अपना रवैया नहीं बदला तो विद्यालय पर अनिश्चितकालीन तालाबंदी की जाएगी। 

अमदहां चरनपुर स्थित प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक लेट पहुंचे तो प्रधान प्रतिनिधि गांव वालों के साथ पहुंचे थे। विद्यालय में 240  बच्चों का नामांकन है। विद्यालय में दो शिक्षामित्रों के अलावा तीन शिक्षक तैनात हैं। गांव वालों की मानें तो जनवरी से ही शिक्षकों के देर से आने का सिलसिला चल रहा है। अभिभावकों ने एबीएसए नौगढ़ को शिकायती पत्र भी दिया लेकिन आश्वासन ही मिला। ग्रामीणों के मुताबिक बुधवार को भी शिक्षक, शिक्षामित्र 9 बजे से 9.50 बजे तक विद्यालय पहुंचते रहे। शिकायतों को  संज्ञान में लेते हुए ग्राम प्रधान प्रतिनिधि जिलाजित सिंह यादव  विद्यालय पहुंचे थे। ‌गांव वालों ने विभागीय अधिकारियों के खिलाफ नारेबाजी की। हालांकि ग्रामीणों ने कहा कि यदि शिक्षकों ने लेटलतीफी का अपना रवैया नहीं सुधारा तो सप्ताहभर बाद अनिश्चितकालीन तालाबंदी की जाएगी। 


एबीएसए अवधेश नारायण सिंह बोले

हेड मास्टर नीरज सिंह, सहायक अध्यापक राजेश यादव, दो शिक्षा मित्रों गामा भारती और चंद्रकला देवी  को नोटिस भेजकर स्पष्टीकरण लिया जाएगा। संतोषजनक  जवाब न मिलने पर कार्रवाई होगी

बीएसए सत्येंद्र सिंह बोले

मामला संज्ञान में है, हेड मास्टर और सहायक अध्यापकों के विरुद्ध कार्रवाई के लिए एबीएसए को निर्देश दे दिया गया है। रिपोर्ट आने के बाद कठोर कार्रवाई की जाएगी