जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
नोटिस मिलते ही बिना झंडा फहराए घर चले गए मुंशी यादव, स्कूल को बना लिया था घर
 

 
चंदौली जिले के नौगढ़ इलाके के एक विद्यालय के कमरे में रहने और अवैध रूप से निजी कमरे का निर्माण करवाने के मामले में एबीएसए अवधेश सिंह ने विकासखंड के प्राथमिक विद्यालय, औरवाटांड़ के प्रधानाध्यापक मुंशी यादव को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। 

ग्रामीणों के द्वारा मिली जानकारी के अनुसार नोटिस मिलने के बाद प्रधानाध्यापक दो अक्टूबर को बिना झंड फहराए ही विद्यालय से चले गए। उसके बाद आए उनके ही दो आदमियों ने अवैध निर्माण को ढहा दिया। 

आपको बता दें कि चंदौली समाचार में इस खबर को प्रकाशित किया था और उसी के बाद बेसिक शिक्षा विभाग हरकत में आया था और नौगढ़ के एबीएसए ने मामले का संज्ञान लेते हुए यह कार्रवाई की। नौगढ़ ब्लॉक स्थित प्राथमिक विद्यालय औरवाटांड़ में दो कमरे हैं। दोनों में प्रधानाध्यापक और एक शिक्षामित्र और उनका परिवार स्थायी रूप से रहता है। कमरे में टेबल कुर्सी नहीं बल्कि बेड सहित गुरुजी की चारपाई थी। जहां वे रात को सोते हैं और दिन में पढ़ाते हैं। बच्चे उस कमरे के कोने या फिर गलियारे में पढ़ाई करने को मजबूर हैं। 

कहा जा रहा था कि प्रधानाध्यापक ने विद्यालय के जमीन पर ही विद्यालय के अंदर एक निजी आवास का निर्माण भी शुरू करा दिया था। एबीएसए अवधेश सिंह ने तत्काल प्रधानाध्यापक मुंशी यादव को कारण बताओ नोटिस जारी किया। वहीं एसडीएम डॉ. अतुल गुप्ता ने भी प्रधानाध्यापक से जवाब-तलब किया। 

यह भी कहा जा रहा है कि दो अक्टूबर को प्रधानाध्यापक विद्यालय में बिना ध्वजारोहण किए ही घर चले गए। ग्रामीणों ने बताया कि उनके जाने के बाद उनके ही घर के दो लोग विद्यालय में आए और अवैध रूप से बनाए जा रहे कमरे को ध्वस्त कर दिया।