जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
नौगढ़ में डूबते सूरज को व्रती महिलाओं ने दिया अर्ध्य, तालाबों पर उमड़ी भीड़
नौगढ़ में छठ व्रत रखने वाली महिलाएं सोमवार को  सुबह से ही तैयारी में लग गईं। विविध प्रकार के पकवान बनाए गए। इसे एक बड़े पात्र में रखा गया।
 

तालाबों के छठ घाटों पर महिला श्रद्धालुओं का रेला उमड़ पड़ा।

निर्जल रहकर स्नानादि और श्रृंगार कर महिलाएं परिवार के लोगों के साथ छठ घाटों पर पहुंची।

चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ में  छठ पर्व पर शाम होते ही नदियाें, पोखरों और तालाबों के छठ घाटों पर महिला श्रद्धालुओं का रेला उमड़ पड़ा। व्रती महिलाएं घुटने भर पानी में खड़ा होकर डूबते भगवान भास्कर को प्रथम अर्घ्य दिया। रात भर नौगढ़ के अलावा विभिन्न गांवों में छठ मईया के गीत गूंजते रहे। 

आपको बता दें कि नौगढ़ में छठ व्रत रखने वाली महिलाएं सोमवार को  सुबह से ही तैयारी में लग गईं। विविध प्रकार के पकवान बनाए गए। इसे एक बड़े पात्र में रखा गया। सुबह से ही निर्जल रहकर स्नानादि और श्रृंगार कर महिलाएं परिवार के लोगों के साथ छठ घाटों पर पहुंची। दीप प्रज्वलित कर छठ मईया की पूजा की गई। इसके बाद एक दीप गंगा मईया और एक दीप भगवान भास्कर को अर्पित किया गया। यह सब करने के बाद महिलाएं नदी, तालाब और पोखरों में कमर भर पानी में जाकर खड़ी हो गईं। भगवान भास्कर के डूबने पर उन्हें अर्घ्य दिया गया। इसके बाद व्रती महिलाएं परिवार के सदस्यों के साथ घर लौट आईं। 

गुरुवार को सुबह उगते सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही यह व्रत पूरा हो जाएगा। विकास खंड नौगढ़ के गंगापुर, गढ़वा, उदितपुर सुर्रा,  बजरडीहा, ज़रहर, बैरगाढ़, कोठी घाट, लौवारी खुर्द, मगरही बरवाडीह गांव के आदि छठ घाटाें पर व्रती महिलाओं ने डूबते सूर्य को अर्घ्य दिया। यहां मेले जैसा दृश्य देखने को मिला। बजरडीहा के ग्राम प्रधान संजय यादव और नौगढ़ दुर्गा मंदिर के पोखरे पर दीपू  बाबा ने फल का वितरण किया 

Chhath puja


मन्नत पूरी होने पर भरी कोसी
मन्नत पूरा होने पर महिलाएं छठी मईया की कोसी भरतीं हैं। हर साल की तरह इस साल भी दुर्गा मंदिर के पोखरे पर  तमाम महिलाओं ने कोसी भरा। इसमें उनके परिवार, रिश्तेदार और परिचित शामिल हुए। व्रती महिलाएं छठ मईया के पारंपरिक गीत गाते हुए छठ घाटों तक पहुंची। विधि-विधान से पूजा पाठ करने के बाद व्रती महिलाओं ने अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया। इसके बाद फिर छठ मईया के गीत गाते हुए घर आ गईं।
व्रती महिलाओं के साथ उनके परिवार के लोग भी छठ घाटों पर पहुंचे। इसके चलते हर घाट पर भारी भीड़ हो गई थी। घाटों पर मेले जैसा दृश्य दिख रहा था।

जगमग रहे घाट, फोड़े गए पटाखे
नौगढ़ इलाके में छठ घाटों को जगमग करने के लिए ग्राम पंचायतों ने कई दिनोें से तैयारी कर रखा था। कस्बा नौगढ़ के दुर्गा मंदिर पोखरे के चारों ओर लाइट जल रही थी। देर रात तक कीर्तन भजन चलता रहा।  इससे व्रती महिलाओं और अन्य लोगों को कोई दिक्कत नहीं हुई। वहीं भगवान भास्कर के अस्त होते ही बच्चों ने पटाखे फोड़े। राकेट से आसमान सतरंगी हो गया था।

Chhath puja

दुर्गा मंदिर के पोखरे पर सोनभद्र के  पूर्व सांसद छोटेलाल खरवार, पूर्व ग्राम प्रधान प्रभु नारायण जायसवाल, दीपक गुप्ता, बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष  विजय बहादुर सिंह, भाजपा के मंडल अध्यक्ष भगवानदास अग्रहरि, लौवारी कला ग्राम प्रधान यशवंत सिंह यादव, विनोद यादव समेत क्षेत्र के तमाम संभ्रांत नागरिक मौजूद थे।  तहसीलदार सुरेश चंद्र, पुलिस क्षेत्राधिकारी चकिया भी मौके पर मौजूद रहे, जबकि थाना प्रभारी राजेश सरोज, थानाध्यक्ष चकरघट्टा दीनदयाल पांडे,  महिला पुलिस और पीएसी बल के जवान पूरी तरह मुस्तैदी से इलाके में चक्रमण  करते नजर आए।