जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
नौगढ़ के दो गांवों में डायरिया फैलने से मचा कोहराम, जानिए यशवंत प्रधान ने कैसे लोगों की बचाई जान
 

चंदौली जिले में नौगढ़ थाना क्षेत्र के केसार गांव के बाद लौवारी कला गांव में डायरिया ने दस्तक दिया है। यहां दो दर्जन से अधिक लोग इस बीमारी से ग्रसित हो गए हैं। डायरिया बस्ती को पूरी तरह  अपनी चपेट में जब तक लेता इससे पहले मंगलवार की सुबह  मेडिकल अफसरों की टीम ने बस्ती में पहुंचकर उपचार करना शुरू कर दिया। कुओं में दवा का घोल डालने के साथ ही ग्राम प्रधान यशवंत सिंह यादव के द्वारा पूरी बस्ती में ब्लीचिंग पाउडर तथा चूने का छिड़काव कराया गया।

आपको बता दें कि सीएचसी नौगढ़ के चिकित्साधीक्षक डॉ अवधेश पटेल को ग्राम प्रधान यशवंत सिंह यादव ने डायरिया फैलने की जैसे ही सूचना दिया, विभाग हरकत में आ गया। तुरंत दवा, ग्लूकोज की बोतल के साथ मेडिकल अफसरों की टीम बस्ती में पहुंची। लौवारी कला गांव की हेल्थ वैलनेस सेंटर की सीएचओ गीता मेहता, एनम सुशीला देवी के अलावा मेडिकल ऑफिसर डॉ दिनेश कनौजिया, डॉ गंगाराम भारती, श्याम नंदन समेत अन्य स्वास्थ्य कर्मियों ने घर-घर जाकर पीड़ित महिलाओं और बच्चों का उपचार करना शुरू किया। 

 लौवारी खुर्द गांव में पहुंची साथ विभाग की टीम में शामिल चिकित्सकों ने गांव के लोगों को बताया कि डायरिया के लक्षण दिखाई पड़ने पर तत्काल मोबाइल एंबुलेंस 108 या डॉक्टरों के मोबाइल नंबर पर कॉल करके सूचित करें। प्रभावित लोगों में  28 लौवारी  खुर्द के रहने वाले हैं, जबकि अन्य  2 लेड़हा गांव के बताए जा रहे हैं। डायरिया से ग्रसित मरीजों में पन्ना वनवासी (26), बनारसी वनवासी (35) कलावती (60), पूनम (24), तनु (26), मोतीलाल (38), सुरेश (55), सुनील (18), नींबू (30), उमाशंकर (32), पार्वती (45), पूनम (28), आशा (32), सूरज (18), अभिषेक (12), खुशबू (18), आरुषि (10) शालू (18), सुनीत (29), सीता (20), जयप्रकाश (22), मंजू (25), मोहन (20), गीता देवी (40), प्रियंका (16), निट्टू (19), अलियार (50), भोले (20), राम नरेश (55), मुन्नालाल (50) समेत अन्य शामिल हैं। 


 

Diarrhea in two village of Naugarh

चिकित्सा अधीक्षक डॉ अवधेश पटेल क्या कहते हैं
.
 मेडिकल टीम के प्रयास से लौवारी खुर्द, केसार, लेड़हा गांव में फैले डायरिया को नियंत्रित कर लिया गया है। गांव के लोगों को ताजा भोजन और उबला हुआ पानी पीने, साफ- सफाई के प्रति ध्यान देने का चिकित्सीय परामर्श दिया गया है। लगातार स्वास्थ्य विभाग की टीम प्रभावित गांवों में निगरानी कर रही है।

एडीओ पंचायत प्रेमचंद्र बोले

साफ- सफाई किया जा रहा है। बस्ती में गंदगी तथा नालियों को साफ सुथरा करने के लिए तीन सफाई कर्मी सूर्यबल भारती, अरविंद खरवार, संतोष कुमार को स्थाई रूप से लगाया गया है।
(प्रेमचंद्र) एडीओ पंचायत