जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
जंगल की जमीन पर कब्जा करने वाले मिल्क प्लांट मालिक के खिलाफ मुकदमा, चला बुलडोजर भी
 
 चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ वन विभाग ने आरक्षित वन भूमि पर किए गए अवैध निर्माण (मिट्टी मोरम) की सड़क को जेसीबी से खुदाई कराकर  ध्वस्त करवा दिया। इस दौरान अधिकारियों और वन कर्मियों को विरोध भी झेलना पड़ा। वन क्षेत्राधिकारी रवि शंकर शर्मा ने काशी विश्वनाथ इंटरप्राइजेज के प्रोपराइटर के विरुद्ध वन अपराध का मामला दर्ज किया है। 


आपको बता दें कि काशी विश्वनाथ इंटरप्राइजेज के प्रोपराइटर ने चंदौली सोनभद्र के सरहद मिल्क प्लांट स्थापित किया है, लेकिन वाहनों को आने और ले जाने हेतु जयमोहनी रेंज में आरक्षित वन क्षेत्र के कंपार्टमेंट नंबर 11 पश्चिमी जयमोहनी में खुदाई कराकर मिट्टी मोरम की सड़क बना दिया।

 वन क्षेत्राधिकारी रवि शंकर शर्मा ने चंदौली समाचार को बताया कि कुछ दिन पहले  काम रुकवाते हुए कार्यवाही की चेतावनी दिया गया था लेकिन, गुरुवार की रात में मिल्क प्लांट के प्रोपराइटर ने वनरक्षक को धमकाकर जबरदस्ती जेसीबी की मदद से सड़क को बना दिया। जानकारी होने के बाद शनिवार को दोपहर में  जेसीबी लेकर पहुंचे वन क्षेत्राधिकारी ने बड़े-बड़े गड्ढे खोदकर बनाई गई पूरी सड़क को ध्वस्त कर दिया गया। 

Kashi Vishwanath Enterprise
सड़क तोड़ने के दौरान  कुछ लोग विरोध करने लगे, वन विभाग का अमला और वन क्षेत्राधिकारी ने सख्ती दिखाई तो विरोध करने वाले शांत हो गए और सदल बल को देख चुप रहना ही मुनासिब समझा। कई घंटे की मशक्कत के बाद सड़क को ध्वस्त कर दिया गया। इस अभियान में वन दरोगा ओंकार नाथ शुक्ला, आदित्य सिंह, मनीष गुप्ता, सदानंद समेत अन्य वन कर्मी मौजूद थे।

क्या  बोले डीएफओ दिनेश सिंह 


सोनभद्र के नागनार हरैया में बनाए गए मिल्क प्लांट के प्रोपराइटर विनोद कुमार पांडे पुत्र सूर्य नारायण पांडे के विरुद्ध केस दर्ज हुआ है। जबरदस्ती बनाए गए मिट्टी मोरम की सड़क को ध्वस्त करने की कार्रवाई की गई है।