जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
नौगढ़ में महाअष्टमी पर पूजा पंडालों में उमड़ी भीड़, कल्लू ने बांटा, फलाहारी प्रसाद
 

 चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ में श्रद्धालुओं ने अपने अपने घरों में महाअष्टमी के दिन मां महागौरी की वैद्विक मंत्रोचार के साथ पूजा अर्चना किया। विद्वानो के अनुसार मां महागौरी को शिवा भी कहा जाता है। इनके एक हाथ में दुर्गा शक्ति का प्रतीक त्रिशुल है तो दूसरे हाथ में भगवान शिव का डमरू है। महागौरी उज्ज्वल, कोमल, श्वेत रंग और श्वेत वस्त्रों में चतुर्भुजा हैं। ऐसी मान्यता है कि महागौरी को गायन और संगीत बहुत पसंद है। ये सफेद वृषभ यानी बैल पर महिला की शक्ति को दर्शाता है। इनके समस्त आभूषण आदि भी श्वेत होते हैं।

 आपको बता दें कि महागौरी की उपासना से पूर्व संचित पाप नष्ट हो जाते हैं। महाअष्टमी के दिन नौगढ़ इलाके के नर्वदापुर गांव स्थित मां अमरा भवानी के दरबार में श्रद्धालुओं की काफी भीड़ रही। इसके अलावा कस्बा नौगढ़ समेत तिवारीपुर, विशेषरपुर, बरवाडीह के मंदिरो और दुर्गा पूजा के  पंडालो मे भक्तिमय माहौल देखने को मिला। लोग देवी गीतो पर झुमते नजर आये। वहीं कस्बा नौगढ़ का दुर्गा पूजा पंडाल आकर्षण के केन्द्र बना रहा। शान्ति ब्यवस्था कायम रखने हेतु चकरघट्टा और नौगढ़ थाने की पुलिस मुस्तैद नजर आई।

kallu prasad

  महाअष्टमी के अवसर पर सायं काल पूजा पंडाल नौगढ़ में सोनभद्र- नौगढ़ बस स्टैंड के  मशहूर चाय के दुकानदार कल्लू मद्धेशिया ने राकेश जयसवाल उर्फ बाबूलाल के द्वारा  अपनी टीम के साथ मां जगदंबा का दर्शन करने आए श्रध्दालुओ को फल और प्रसाद का वितरण किया गया।