जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
नौगढ़ में प्रधान, रोजगार सेवक के विवाद का मामला पहुंचा थाने, एक दूसरे पर लगा रहे हैं आरोप
नौगढ़ में अमृतपुर गांव के रोजगार सेवक तारकेश्वर ने गांव के प्रधान चंद्रशेखर यादव पर अभद्रता, जान से मारने की धमकी दिए  जाने का आरोप लगाते हुए नौगढ़ थाना में तहरीर दिया है।
 
 

नौगढ़ में प्रधान, रोजगार सेवक के विवाद का मामला

एक दूसरे पर लगा रहे हैं आरोप
 

नौगढ़ में अमृतपुर गांव के रोजगार सेवक तारकेश्वर ने गांव के प्रधान चंद्रशेखर यादव पर अभद्रता, जान से मारने की धमकी दिए  जाने का आरोप लगाते हुए नौगढ़ थाना में तहरीर दिया है।
  

 चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ में अमृतपुर गांव के रोजगार सेवक तारकेश्वर ने गांव के प्रधान चंद्रशेखर यादव पर जान से मारने की धमकी दिए जाने का आरोप लगाते हुए नौगढ़ थाना में तहरीर दिया है। जानकारी होने पर बृहस्पतिवार  को प्रधान संघ नौगढ़ के अध्यक्ष अनिरुद्ध सिंह यादव के नेतृत्व में कई गांवो के प्रधान और प्रतिनिधि थाने पहुंचे।  ‌थाना प्रभारी से कहा की रोजगार सेवक अनर्गल आरोप लगाकर प्रधान की छवि खराब कर रहा है।

Pradhan employment servant

आपको बता दें कि थाना प्रभारी राजेश सरोज ने  मामले की जांच  करने के बाद उचित कार्रवाई करने को कहा है। बताया जा रहा है कि अमृतपुर गांव में नियुक्त रोजगार सेवक तारकेश्वर के द्वारा नौगढ़ ब्लॉक के ग्रुप में ऑडियो वायरल किया गया था। उसने कहा था और  मनरेगा कार्यों का मस्टररोल निकालने हेतु डिमांड पर पंचायत सचिव गुड्डू  प्रसाद का फर्जी दस्तखत किसी और  के द्वारा किए जाने तथा बिना दस्तखत के फर्जी लेबरों का भुगतान कराने हेतु मस्टरोल निकाला जा रहा है।

 ऑडियो वायरल होने के बाद ग्राम प्रधान चंद्रशेखर यादव तथा पंचायत सचिव गुड्डू प्रसाद ने मनरेगा के कार्यों में रुचि ना लेने और अनर्गल आरोप लगाने पर रोजगार सेवक को नोटिस जारी करते हुए अधिकारियों को कार्यवाही के लिए सूचित कर दिया गया। नोटिस मिलने के बाद रोजगार सेवक नौगढ़ थाने पहुंच गया और  ग्राम प्रधान के विरुद्ध तहरीर देते हुए आरोप लगाया कि दरवाजे पर चढ़कर प्रधान के द्वारा गाली देते हुए जान से मारने की धमकी दी गई है। थाना पुलिस ने ‌ और प्रधान को ‌ बृहस्पतिवार को दोपहर में बुलाया था। जानकारी होने पर प्रधान थाने पहुंचे थे। 

Pradhan employment servant


इस दौरान प्रधान संघ अध्यक्ष अनिरुद्ध सिंह यादव, जगनारायण सिंह, जिलाजीत सिंह यादव, ईश्वर कुमार, परमानंद यादव, अशोक कुमार, अजय यादव, संतराम यादव समेत काफी संख्या में प्रधान मौजूद थे।


खंड विकास अधिकारी सुदामा यादव बोले

मामला संज्ञान में नहीं है, अगर ऐसा हो रहा है तो पंचायत सचिव, ग्राम प्रधान और रोजगार सेवक के विरुद्ध  कार्रवाई करेंगे।