जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
नौगढ़ में वन्य-प्राणियों की सुरक्षा के लिए अधिकारियों ने दिलाई शपथ, बच्चों ने लिया यह संकल्प
 
चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ मे काशी वन्यजीव प्रभाग रामनगर की ओर से चलाए जा रहे वन्य जीव प्राणी सप्ताह के अंतर्गत बुधवार को राजकीय महाविद्यालय नौगढ़ में वृक्षारोपण के अलावा भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। छात्र छात्राओं ने भाषण प्रतियोगिता में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते हुए वन्यजीवों को बचाने का संकल्प लिया और पर्यावरण संरक्षण के लिए लोगों को जागरूक किया।


आपको बता दें कि नौगढ़ रेंज के वन क्षेत्राधिकारी रिजवान अली खान ने शपथ दिलाने के साथ   प्रतियोगिता में पहले तीन स्थान पर आने वाली दीपशिखा, काजल और निशा को  पुरस्कृत करते हुए सम्मानित किया। वन क्षेत्राधिकारी ने कहा कि वन्यजीवों का मानव के जीवन में विशेष महत्व है, और उन्हें अपने भोजन के लिए पर्याप्त जंगल चाहिए, कहा की  दुर्लभ वन्य जीव प्रकृति की धरोहर है, इनको बचाने के लिए क्षेत्रीय जनता का सहयोग आवश्यक है।

Oath to School Children
वन्य जीव प्राणी सप्ताह कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए मुख्य अतिथि प्राचार्य डॉ रमेश कुमार ने  कहा की पर्यावरण के सजग प्रहरी पेड़-पौधे एवं पशु-पक्षी ही होते हैं। उनका संरक्षण करना मानव का धर्म है। कोरोना महामारी ने मानव को आगाह कर दिया कि मूक प्राणियों की हत्या करने के दुष्परिणाम बहुत ही भयावह हुए हैं।

 असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ तेज प्रकाश सिंह ने कहा कि वन्य जीवों की कम हो रही संख्या चिंतनीय विषय है। प्राणियों की कम होती संख्या हमें आगाह कर रही है कि वन्य प्राणियों का संरक्षण करना होगा तभी वन्य प्राणी सुरक्षित बचेंगे। डॉ.अनुराग ने कहा कि सरकार ने भारतीय वन्य जीव प्रजाति को विलुप्त होने से बचाने के उद्देश्य से वर्ष 1952 में भारतीय वन्य जीव बोर्ड की स्थापना की थी। वन्य जीवों से ही प्रकृति के संतुलन का निर्माण होता है।

 इस मौके पर महाविद्यालय के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ रवि प्रकाश, शीतला प्रसाद, डॉक्टर पूजा के अलावा  वन दरोगा गुरदेव सिंह, वनरक्षकों में सचिन पांडे, गौरव पाठक व अन्य कर्मी उपस्थित थे।