जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
अब आंदोलन करने का मूड बना रहे कृषि विभाग के कर्मचारी, काली पट्टी बांधकर जताया विरोध
 

चंदौली जिले में वेतन, पेंशन, पदोन्नति समेत अन्य मांगों व विभागीय समस्याओं का निस्तारण न होने को लेकर कृषि विभाग के कर्मी मुखर हो गए। अपनी मांगों को लेकर कर्मियों ने आज अपने बाहों पर काली पट्टी बांधकर विरोध जताया। शासन-प्रशासन पर जानबूझकर मांगों को लंबित करने का आरोप लगाया। 

इस दौरान कृषि विभाग के क्रमियों ने चेताया कि मांगों पर विचार नहीं किया गया तो कार्य बहिष्कार और उग्र आंदोलन करेंगे। कर्मियों ने कहा, शासन स्तर पर वेतन विसंगति, कैडर रिव्यू, राजपत्रित अधिकारी घोषित किया जाना, रिक्त पदों पर नियुक्ति, सेवा समाप्ति, पदोन्नति समेत तमाम मांगों से शासन को कई बार अवगत कराया जा चुका है लेकिन हर बार आश्वासन के सिवाय और कुछ हासिल नहीं होता।


 शासन स्तर पर जानबूझकर जायज मांगों को लंबित रखा जाता है। इस वजह से निराशा और आक्रोश का माहौल पनप रहा है। जब भी मांगों को लेकर आंदोलन किया जाता है, तब आश्वासन देकर समाप्त करा दिया जाता है। इस वजह से तमाम तरह की परेशानियां झेलनी पड़ रही हैं। 


कृषि विभाग के क्रमियों ने बताया कि विरोध का क्रम 15 सितम्बर तक चलता रहेगा। 22 को मुख्यमंत्री को नाम संबोधित पत्रक जिलाधिकारी को सौंपकर विरोध जताएंगे। 6  अक्टूबर को लखनऊ स्थित कृषि निदेशालय परिसर में धरना-प्रदर्शन करेंगे। 


इस दौरान अध्यक्ष राधारमण मिश्रा, महामंत्री अंबा प्रकाश शर्मा समेत अन्य मौजूद रहे।