जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
जानिए किन मामलों में दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं बैंक, CDO साहब दे रहे हैं निर्देश
चंदौली जिलाधिकारी संजीव सिंह के निर्देशानुसार मुख्य विकास अधिकारी अजितेंद्र नारायण की अध्यक्षता में आज जिला स्तरीय कार्यान्वयन समिति (डीएलआईसी) की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई,
 
 CDO साहब दे रहे हैं निर्देश
 

चंदौली जिलाधिकारी संजीव सिंह के निर्देशानुसार मुख्य विकास अधिकारी अजितेंद्र नारायण की अध्यक्षता में आज जिला स्तरीय कार्यान्वयन समिति (डीएलआईसी) की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई, जिसमें सीडीओ साहब ने बैंकों को सरकारी की योजनाओं के क्रियान्वयन में सहयोग करने के साथ साथ योजनाओं के लाभ लाभार्थियों को तत्काल देने पर जोर दिया।

इस मीटिंग में मुख्य विकास अधिकारी ने बैंक प्रतिनिधियों को निर्देशित करते हुए कहा कि बैंक सरकारी योजनाओं में कोई कोताही न बरतें। लक्ष्य के सापेक्ष मुद्रा लोन का वितरण अधिक से अधिक किया जाए। बैंक लाभार्थियों के ऋण संबंधित आवेदन पत्रों को अनावश्यक लंबित न रखें उनका समय से निस्तारण कराना सुनिश्चित हो। सरकार द्वारा प्रायोजित विभिन्न योजनाओं की लंबित पत्रावलियों का निस्तारण संबंधित बैंक अविलंब करें। 

साथ ही कहा कि लाभार्थियों को विभिन्न योजनाओं के ऋण प्रदान करने/ लाभान्वित कराने हेतु अधिक से अधिक कैंपों का आयोजन किया जाए। उन्होंने खराब प्रदर्शन वाले बैंकों के खिलाफ कार्यवाही की चेतावनी दी। प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के अंतर्गत स्वीकृत आवेदन पत्रों के सापेक्ष धन राशि का वितरण अभिलंब कराए जाने के निर्देश दिए। 

CDO Chandauli Voter Awareness Rally

जिले में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, किसान क्रेडिट कार्ड, दीनदयाल उपाध्याय स्वरोजगार योजना, मुख्यमंत्री ग्राम उद्योग आदि योजनाओं में प्रगति लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत सुनिश्चित होने की बात दोहरायी। किसान क्रेडिट कार्ड बनाए जाने की प्रगति असंतोषजनक पाई गई। समस्त बैंक इस पर विशेष ध्यान देते हुए अधिक से अधिक क्रेडिट कार्ड बनवाना सुनिश्चित करें। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि विभिन्न विभागों के लंबित समस्त आवेदन पत्रों को संबंधित बैंक 1 सप्ताह के अंदर निस्तारित अवश्य कर दें। इसमें शिथिलता कतई न बरती जाए। 


बैठक के दौरान आरबीआई के गाइडलाइन के आधार पर जनपद चंदौली के लिए वर्ष 2022-23 के लिए समस्त बैंक को कृषि एवं गैर कृषि ऋण के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए संभाव्यता युक्त ऋण योजना (पीएलपी) से संबंधित पुस्तिका का विमोचन भी मुख्य विकास अधिकारी द्वारा किया गया। 

बैठक के दौरान एलडीएम, जिला कृषि अधिकारी, डीडीएम नाबार्ड, खादी ग्रामोद्योग अधिकारी सहित विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधि गण व संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।