जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में भैंसउर गांव के चंदन ने पाया पहला स्थान
 भैंसउर गांव निवासी संजय उपाध्याय के पुत्र चंदन ने हैदरगढ़ में आयोजित राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में लक्ष्य पर अचूक तीर छोड़कर प्रथम स्थान हासिल किया।
 

राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता

भैंसउर गांव के चंदन ने पाया पहला स्थान
 

चंदौली जिले के भैंसउर गांव निवासी संजय उपाध्याय के पुत्र चंदन ने हैदरगढ़ में आयोजित राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में लक्ष्य पर अचूक तीर छोड़कर प्रथम स्थान हासिल किया। 12 से 14 नवंबर तक आयोजित प्रतियोगिता में उनके उम्दा प्रदर्शन न सिर्फ माता-पिता, बल्कि शुभचितक भी गदगद हैं। 

बताया जा रहा है कि चंदन उपाध्याय सोनभद्र में राजा शारदा महेश इंटर कालेज में 12वीं के छात्र हैं। चंदन के अंदर शुरूआत से ही तीरंदाजी की ललक थी। ऐसे में सोनभद्र से इंटर की पढ़ाई करने के साथ ही यूपी एकेडमी से इसकी तैयारी करते रहे। हालांकि कोरोना की वजह से पिछले दो साल से यहां छात्रावास बंद था। दिक्कत की वजह से उन्होंने बाराबंकी के हैदरगढ़ स्थित एक एकेडमी में तीरंदाजी की तैयारी शुरू की। पिछले एक साल से वहीं लक्ष्य भेदने की कला सीख रहे थे। वे यूपी एकेडमी की तरफ से राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में अपनी प्रतिभा दिखा चुके हैं। राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में प्रथम स्थान हासिल कर स्वर्ण पदक जीता था।

बताया जा रहा है कि 12 से 14 नवंबर तक हैदरगढ़ में आयोजित 11वें ओपन राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता में तीरंदाजी में प्रदेश का प्रतिनिधित्व करते हुए लक्ष्य पर अचूक बाण चलाकर प्रथम स्थान प्राप्त किया। इस उपलब्धि के बाद उसने कहा कि कोच के सही मार्गदर्शन व मेहनत की बदौलत यह सफलता हासिल हुई है।

आपको बता दें कि चंदन काफी सामान्य परिवार से हैं। उनके पिता पहले बस कंडक्टर थे। अब खेती-किसानी करते हैं।