जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
नेताओं व कार्यकर्ताओं के फीडबैक से वेटिंग लिस्ट में गए पावरफुल डीएम, देर रात हुआ तबादला
खबरों एवं पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा उनकी गतिविधियों की लगातार चर्चा सरकार तक पहुंचती रही, लेकिन पकड़ के कारण जिलाधिकारी चंदौली में बने रहे।
 

प्रतीक्षा सूची में जाने पर हो रही है चर्चा

नहीं बचा पाए कद्दावर संरक्षक और नेताजी 

 

चंदौली जनपद के जिलाधिकारी संजीव कुमार सिंह का स्थानांतरण करते हुए उन्हें प्रतीक्षा सूची में डाल दिए जाने के बाद भाजपा में इसकी चर्चा सरकार की उपलब्धियों को लेकर जोर शोर से है। जिले में भाजपा के एक दिग्गज नेता के नाम पर बेधड़क अंदाज में लगभग 2 सालों से काम करने वाले इस अधिकारी को कुछ खास कारणों से प्रतीक्षा सूची में डाला गया है। जबकि अन्य अधिकारियों की दूसरे जिलों में पोस्टिंग की गयी है।

 चर्चा है कि प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री के खास  माने जाने वाले डीएम अपना धाक जमा कर लगभग 2 वर्षों तक चंदौली में बने रहे। खबरों एवं पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा उनकी गतिविधियों की लगातार चर्चा सरकार तक पहुंचती रही, लेकिन पकड़ के कारण जिलाधिकारी चंदौली में बने रहे। उनके स्थानांतरण की चर्चा विधानसभा चुनाव के समय ही पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा की जा रही थी, लेकिन किसी की नहीं चली। 

चंदौली जनपद के उनसे पहले के डीएम नवनीत सिंह चहल अपने कार्यशैली के चलते यहां से मथुरा डीएम बने। फिर मथुरा से आगरा के जिलाधिकिरी बन गए। लेकिन संजीव कुमार सिंह को उनकी कार्यशैली व पार्टी नेताओं के फीडबैक के कारण चर्चाओं के चलते प्रतीक्षा सूची में डाल दिया गया है। 

अब नए जिलाधिकारी के रूप में ईशा दुहन की पोस्टिंग चंदौली में की गई है और वह पड़ोसी जनपद बनारस में अपने कार्यों से चर्चित रही है। उनके चर्चा के बाद चंदौली डीएम बनने पर लोग बेहद उत्साहित हैं।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*