जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
नौगढ़ में कोईलरवा हनुमान मंदिर में श्रद्धालुओं ने मत्था टेका, प्रशासन रहा मुस्तैद

एकादशी पर कोविड-19 से पीड़ित परिवार के लोगों ने मन्नत पूरी होने पर बजरंगबली को ध्यान करके कथा पुराण सुना। पांच दिवसीय मेले का शुभारंभ महंत श्री श्री 1008 संत रामदास त्यागी ने लड्डू का भोग लगाकर किया।

 

नौगढ़ में कोईलरवा हनुमान मंदिर में श्रद्धालुओं ने मत्था टेका

पांच दिवसीय मेले का शुभारंभ

चंदौली जिले में नौगढ़ क्षेत्र  के कोईलरवा हनुमान मंदिर के परिसर में कार्तिक पूर्णिमा पर लगने वाले पांच दिवसीय मेले का शुभारंभ महंत श्री श्री 1008 संत रामदास त्यागी ने बजरंगबली को लड्डू का भोग लगाकर किया। मेले में आए सपरिवार लोगों ने कथा श्रवण करते हुए आंवले के पेड़ के नीचे बाटी- चोखा, खिचड़ी का  प्रसाद बनाकर ग्रहण किया।


आपको बता दें कि बजरंगबली के भक्तों की भीड़ घनघोर जंगल में अल सुबह से ही जमा होने लगी। सोमवार को पहले दिन पूरी आस्था व विश्वास के साथ संकट मोचन हनुमान जी का दर्शन पूजन करने के साथ ही भक्तों ने मन्नत पूरी होने पर मुंडन संस्कार  व कथा पुराण सुनकर पुण्य लाभ कमाया। मंदिर परिसर में कोविड से पीड़ित रहे परिवार के  लोगों ने  मन्नत के बाद ठीक होने पर  कथा पुराण भी सुना और लोगों में प्रसाद भी बांटा।


 श्रद्धालुओं की भारी भीड़ बजरंग बली का जयकारा लगाते हुए  सुबह से ही  मंदिर पर पहुंचनी शुरू हो गई। आस पास के गांव और समीपवर्ती सोनभद्र, मीरजापुर, गाजीपुर व बिहार प्रांत से हजारो की संख्या में श्रद्धालु दर्शन को पहुंचे। जमसोती गांव से हनुमान मंदिर स्थल तक निजी वाहनों सहित पैदल पहुंचने वाले श्रद्धालुओं का तांता पूरे दिन लगा रहा। घंट घड़ियालों की गूंज से समूचा जंगल मंगलमय हो गया।


   आमचुआ के घनघोर जंगल में सुरक्षा की दृष्टि से थाना प्रभारी नौगढ़ राजेश सरोज, चंद्रप्रभा पुलिस चौकी के इंचार्ज राम नयन यादव महिला पुलिस भारी पुलिस  फोर्स के साथ मंदिर परिसर में चक्रमण करते रहे। नक्सल प्रभावित इलाका होने के चलते  पीएसी की दो टुकड़ी के जवान जगह-जगह मुस्तैद थे।