जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
कमालपुर ईपीएचसी से 39,714 लोगों का हो चुका इलाज, मिल रही है अच्छी सुविधा
अब डिजिटल इंडिया का असर यूपी की स्वास्थ्य सेवाओं में भी दिखने लगा है। ग्रामीण व सुदूर इलाकों में मरीज़ों को निःशुल्क सुविधा देने के लिए यह योजना लाई गई है।
 


जिले के ग्रामीण इलाकों में मरीज़ों की सुविधा के लिए शुरू ईपीएचसी काफी कारगर साबित हो रही है।आज ईपीएचसी केंद्र से मरीज़ों को काफी लाभ मिल रहा है।कमालपुर केंद्र से अब तक 39714 मरीज लाभ ले चुके हैं।वही 5482 मरीजों का लैब जांच की सुविधाएं मिल चुकी हैं।

इस डिजिटल युग में कमालपुर पीएचसी केंद्र को ई पीएचसी केंद्र बनाया गया है। जहां अब तक सर्वाधिक मरीजों ने इलाज की सुविधा ले चुके हैं। अब डिजिटल इंडिया का असर यूपी की स्वास्थ्य सेवाओं में भी दिखने लगा है। ग्रामीण व सुदूर इलाकों में मरीज़ों को निःशुल्क सुविधा देने के लिए यह योजना लाई गई है। स्वास्थ्य लाभ लेने वालों में चन्दौली के मरीज सबसे अधिक है। ई पीएचसी केंद्र प्रदेश के 10 जनपदों में शुरू किया गया है। ईपीएचसी यानि इलेक्ट्रॉनिक प्राथमिक  स्वास्थ्य केंद्र यूपी में पीपीपी मॉडल के रूप में विकसित किया गया है। 

ई पीएचसी केंद्र पर नर्स, लैब, टेक्नीशियन व फार्मासिस्ट की नियुक्ति किया गया है। अस्पताल पर नर्स या फार्मासिस्ट मरीज़ों का पंजीकरण कर वीडियो कॉलिंग के जरिए तत्काल एमबीबीएस चिकित्सक से परामर्श कराते है। केंद्र पर मरीजों को परामर्श व दवा निःशुल्क दिया जाता है। वहीं टाइफाइड, मलेरिया, हीमोग्लोबिन , एचआईवी, डेंगू सहित 21 प्रकार की जांच भी निःशुल्क किया जाता है।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*