जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
चहनिया ब्लाक में आग लगने से 4 गांवों के एक दर्जन किसानों की फसल जलकर राख
चंदौली जिले के बलुआ थाना क्षेत्र के प्रभुपुर समेत चार गांव के खेतों में आग लगने से लगभग 25 बीघा गेहूं की फसल जलकर राख हो गई है। वहां के ग्रामीणों ने किसी प्रकार से आग पर काबू पाया। फायर ब्रिगेड को सूचना देने के बाद समय से गाड़ी मौके पर नहीं जा सकी
 

लगभग 25 बीघा गेहूं की फसल जलकर राख हो गई

फायर ब्रिगेड की गाड़ियों को चलाने से क्या फायदा


चंदौली जिले के बलुआ थाना क्षेत्र के प्रभुपुर समेत चार गांव के खेतों में आग लगने से लगभग 25 बीघा गेहूं की फसल जलकर राख हो गई है। वहां के ग्रामीणों ने किसी प्रकार से आग पर काबू पाया। फायर ब्रिगेड को सूचना देने के बाद समय से गाड़ी मौके पर नहीं जा सकी। आग बुझने पर दमकल की छोटी गाड़ियां मौके पर पहुंची, जिनका गांव वालों को कोई खास फायदा नहीं हुआ।

 बताया जा रहा है कि रामपुर, मिश्रपुरा, प्रभुपुर सहित 4 गांवों में गेहूं के खेत में अज्ञात कारणों से आग लगी, जिसके चलते लगभग 25 बीघा गेहूं की फसल जलकर राख हो गई। आग लगने का सिलसिला रामपुर के वह मुरदेवा के पास से शुरू हुआ। लोगों का कहना है कि आग इतनी तेज थी कि देखते-देखते एक खेत से दूसरे खेत तक फैल गई। जब तक लोग कुछ कर पाते तब तक कई बीघे खेत की फसल को आग ने अपनी चपेट में ले लिया।

 इस दौरान रामपुर में रामदेव यादव, मिश्रपुरा में संजय कुमार मिश्रा, सुशील मिश्रा, सुभाष चंद्र मिश्रा, संतोष मिश्रा, चंद्रशेखर, अरुण, रामसकल, दीपक, राजेंद्र मिश्रा और प्रभुपुर में सुदर्शन सिंह, तारकेश्वर सिंह, शिवाजी से जैसे कई किसानों का गेहूं जलकर राख हो गया है।

 लोगों का कहना है कि जब आग बुझने के बाद ही फायर ब्रिगेड की गाड़ी मौके पर पहुंच रही है, तो ऐसी गाड़ियों को चलाने से क्या फायदा। आज की सूचना पर फायर ब्रिगेड की गाड़ी मौके पर जाने में तेजी दिखाने की जरूरत है।