जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
IAS बनकर पिता व अपना सपना साकार करना चाहती है हाईस्कूल टॉपर अंजू यादव
अंजू पढ़ाई करते हुए अपने माता-पिता के काम में हाथ बटाती थी। अंजू ने अपना रिजल्ट देखने के बाद अपनी सफलता का श्रेय पूरे परिवार को दिया और कहा कि पिता के साथ-साथ बड़ी बहनें उनका हौसला बढ़ाने का काम करती हैं।
 

माता-पिता के काम में हाथ बंटाकर करती रही पढ़ाई, टॉप करने के बाद मिल रही है बधाई, बहनों ने पढ़ायी के लिए किया प्रोत्साहित

 

चंदौली जिले में हाई स्कूल की परीक्षा में 92.67% अंक पाकर जिले में सर्वोच्च स्थान पाने वाली तेनुवट गांव की रहने वाली अंजू यादव सात भाई बहनों में पांचवें नंबर पर है। उसके पिता राम लक्षन यादव एक छोटे किसान हैं तथा माता चमेली देवी घर में कामकाज करके अपने बच्चों को पढ़ाने लिखाने में सहयोग करती हैं।

 घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के बावजूद भी अंजू पढ़ाई करते हुए अपने माता-पिता के काम में हाथ बटाती थी। अंजू ने अपना रिजल्ट देखने के बाद अपनी सफलता का श्रेय पूरे परिवार को दिया और कहा कि पिता के साथ-साथ बड़ी बहनें उनका हौसला बढ़ाने का काम करती हैं।

अंजू ने कहा कि उसके पिता राम लक्षन यादव की हार्दिक इच्छा है कि वह पढ़ लिखकर आईएएस बने। वह अपने पिता के इस सपने को पूरा करने के लिए आईएएस बनने का अपना लक्ष्य बनाया है। वह चाहती है कि आईएएस बनकर अपने घर परिवार की आर्थिक स्थिति को सुधारे और परिवार का नाम रोशन करे।

 अंजू का कहना है कि हाईस्कूल परीक्षा में पूरे जिले में सर्वोच्च स्थान पाने के बाद पूरे परिवार के साथ साथ रिश्तेदारों में भी काफी खुशी का माहौल है। अंजू कहती है कि कई घंटे किताबों में सिर खपाने से अच्छा है कि जितनी देर तक पढ़ाई की जाय अच्छे से की जाय। 

Topper Anju Yadav
अंजू यादव मार्कशीट 

आपको बता दें कि चंदौली जिले के सकलडीहा इंटर कॉलेज में कक्षा 10 की छात्रा अंजू यादव ने उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की परीक्षा में 556 अंक हासिल करके पूरे जिले में अपना परचम लहराया है। अंजू को हिंदी में 89, अंग्रेजी में 86, गणित में 99, विज्ञान में 94, सोशल साइंस में 94 और कला में 94 नंबर मिले हैं। इस तरह से उसने 600 में से 556 अंक पाकर पूरे जिले में अपना परचम लहराया है।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*