जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime

गंगा विलास क्रूज के जाने के बाद शुरू हुआ टांडाकला पीपा पुल, 3 दिन बाद शुरू हुआ आवागमन

जिसके बाद मंगलवार की दोपहर को लोक निर्माण विभाग के कर्मचारियों ने हटाये गये पीपों को एडजस्ट करते हुए पीपा पुल पर आवागमन शुरू करा दिया। 
 

टांडाकला स्थित पीपा पुल पर बंद था रास्ता

गंगा विलास क्रूज के लिए बनाया गया था मार्ग

 3 दिन बाद आवागमन बहाल 

चंदौली जिले के  टांडाकला कैथी के बीच स्थित पीपा पुल पर तीन दिनों की बन्दी के बाद एकबार फिर से आवागमन बहाल कर दिया गया है, जिससे स्थानीय लोगों के साथ साथ व्यापारियों व मार्कण्डेय महादेव के दर्शनार्थियों ने राहत की सांस ली है।
       tandakala pipa pul

विदेशी सैलानियों को लेकर वाराणसी से डिब्रुगढ़ की यात्रा कर रहे गंगा विलास क्रूज को पार कराने के लिए बीते शनिवार को टांडाकला स्थित पीपा पुल के बीच में से कुछ पीपों को निकाल दिया गया था। जिससे उक्त पुल से आवागमन पूरी तरह बन्द हो गया था। अपने तय समय से एक दिन की देरी से सोमवार की देर शाम को क्रूज गाजीपुर के रास्ते वाराणसी चला गया। जिसके बाद मंगलवार की दोपहर को लोक निर्माण विभाग के कर्मचारियों ने हटाये गये पीपों को एडजस्ट करते हुए पीपा पुल पर आवागमन शुरू करा दिया। 

पीपा पुल के शुरू होने से क्षेत्र के टांडाकला सहित सोनबरसा, झोरी, नाथुपुर, टाण्डा खूर्द, सरौली, महमदपुर, रमदत्तपुर, हुसेपुर  मारूफपुर  हरधन जूड़ा, मठिया, चकरा, सर्फुद्दीनपुर, मजदहा सहित अन्य कई गावों के व्यापारियों, आम राहगीरों व बाबा मार्कण्डेय महादेव के दर्शनार्थियों ने राहत की सांस ली। नहीं को सारे लोगों को दो किमी की दूरी के लिए 15 किमी की दूरी तय करना पड़ता था।
 

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*