जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
प्रशिक्षण में महिला पुलिसकर्मियों को दिए गए टिप्स, बच्चों व महिलाओं के मामले में कैसे करें काम
 

चंदौली जनपद के पुलिस लाइन सभागार में महिला पुलिसकर्मियों के लिए शनिवार को एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें महिला पुलिसकर्मियों को इस बात की खास तौर पर ट्रेनिंग दी गई कि वह अपनी ड्यूटी के समय महिलाओं व बच्चों के हितों का किस तरह ख्याल रखें और थाने पर आने वाले फरियादियों या फील्ड में ड्यूटी के समय कैसे इनके प्रति संवेदनशीलता बरतें।

इस मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक सुखराम भारती ने पुलिसकर्मियों से कई उदाहरण व अनुभव के बातें बताते हुए जरूरी बातों को समझाने की कोशिश की। साथ ही साथ आवश्यकता पड़ने पर महिलाओं व बच्चों की मदद करने के तौर तरीके भी बताए। कहा कि ऐसा करने से लोगों में पुलिस के प्रति विश्वास और बढ़ेगा और हम को समाज में सम्मान भी मिलेगा। 

अपर पुलिस अधीक्षक सुखराम भारती ने कहा कि सरकार के द्वारा महिलाओं, छात्राओं, बच्चियों को परेशान करने वालों पर तत्काल कार्रवाई करने का फरमान जारी कर रखा है। ऐसी कोई भी शिकायत आती है तो बीट आरक्षी तत्काल मौके पर पहुंचे और कार्रवाई करें। इसमें किसी भी तरह की झिझक और हिचकिचाहट नहीं होनी चाहिए। महिलाओं के हितों की रक्षा के लिए महिला सहायता प्रकोष्ठ, महिला अपराध शाखा एवं बाल कल्याण समिति, महिला एवं बाल सुरक्षा संगठन का गठन किया गया है। यह सक्रिय होकर काम भी कर रहे हैं।

इनमें सभी संगठनों का उद्देश्य महिलाओं, बच्चों के हितों की रक्षा करना है। प्रशिक्षण के दौरान सभी महिला पुलिसकर्मियों को प्रकोष्ठों से समन्वय बनाकर कार्य करने पर भी जोर दिया गया। महिला कल्याण अधिकारी दीक्षा अग्रहरी ने बताया कि प्रशिक्षण में महिलाओं, बालिका, बच्चों के हितों का विशेष ख्याल रखने, उनसे संबंधित हितकारी योजनाओं की जानकारी उपलब्ध कराने के साथ ही सरकारी, गैर सरकारी संस्थाओं के साथ समन्वय बनाकर काम करने की बारिकियों से अवगत कराया गया।

अपर पुलिस अधीक्षक सुखराम भारती ने इस प्रशिक्षण में शामिल महिला पुलिसकर्मियों को महिलाओं व बच्चों के मान, सम्मान की सुरक्षा के लिए चलाई जा रही प्रदेश व भारत सरकार की योजनाओं की जानकारी दी, जिससे महिलाओं, बच्चों का हित संरक्षण होता है। साथ ही साथ मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, निराश्रित महिला पेंशन योजना, जननी-शिशु सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजनाओं के बारे में भी समझाया।

 

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*