जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
एआरटीओ साहब बोले- यह एक कथित पत्रकार की करतूत, करा ली जाए जांच
जिले में पूर्व आईपीएस और अधिकार सेना के संयोजक अभिताभ ठाकुर ने रविवार को चंदौली आरटीओ कार्यालय की एक कथित वसूली लिस्ट ट्वीट कर कार्रवाई की मांग की तो इस मामले में एआरटीओ चंदौली प्रणव झा ने बताया कि यह लिस्ट पूरी तरह से फर्जी है और एक पत्रकार की यह हरकत है
 

एआरटीओ ऑफिस की वसूली लिस्ट का मामला

एक कथाकथित पत्रकार पर आरोप

पैसे की मांग कर एआरटीओ को कर रहा था ब्लैकमेल

अब होगी जांच

चंदौली जिले में पूर्व आईपीएस और अधिकार सेना के संयोजक अभिताभ ठाकुर ने रविवार को चंदौली आरटीओ कार्यालय की एक कथित वसूली लिस्ट ट्वीट कर कार्रवाई की मांग की तो इस मामले में एआरटीओ चंदौली प्रणव झा ने बताया कि यह लिस्ट पूरी तरह से फर्जी है और एक पत्रकार की यह हरकत है, जिसकी डिमांड पूरी न होने के बाद इस तरह की हरकत करके ब्लैकमेलिंग की जा रही है।

Viral List

आपको बता दें कि अभिताभ ठाकुर ने रविवार को सीएम और डीएम को टैग कर अपने ट्वीट में कहा कि आरटीओ कार्यालय के कथित लिस्ट में ड्राइविंग लाइसेंस, रिन्यूअल, फिटनेस, ट्रांसफर सहित कई प्रकार के कार्यों का रेट लिखा गया है। वहीं अधिकार सेना की प्रवक्ता डॉ. नूतन ठाकुर ने भी इसकी जांच, सत्यापन और उचित कार्रवाई की मांग की है।

इस पर चंदौली के एआरटीओ प्रशासन प्रणव झा ने बताया कि एक कथित पत्रकार मिलने आया था और उनसे पैसे की मांग की। पैसे न देने पर फर्जी सूची जारी करने की धमकी भी दी थी। इस पर उन्होंने तुरंत मना कर दिया और उच्च अधिकारियों से शिकायत भी कर रखी है। जिसके बाद उस पत्रकार ने  फोन पर भी कई प्रकार की सामग्री और अखबार की कटिंग भेजकर ब्लैकमेल करने की कोशिश भी की थी। 

एआरटीओ प्रशासन प्रणव झा ने कहा कि यह फर्जी और वायरल लिस्ट पत्रकार ने खुद से लिखकर वायरल करवायी है। इसकी जांच करा ली जाए तो सब कुछ साफ हो जाएगा।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*