जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
नौगढ़ में हिरण के बच्चे पर आवारा खूंखार कुत्तों का हमला, उपचार के दौरान चली गई जान
चकरघट्टा थाना क्षेत्र के मगरही जंगल में विचरण कर रहे हिरण के बच्चे पर आवारा खूंखार कुत्तों ने हमला किया। इसमें  हिरण गंभीर रूप से घायल हो गया।
 

चकरघट्टा थाना क्षेत्र के मगरही के जंगल में हुई घटना

अक्सर हमला कर देते हैं आवारा कुत्ते

चंदौली जिले में तहसील नौगढ़ के अन्तर्गत चकरघट्टा थाना क्षेत्र के मगरही जंगल में विचरण कर रहे हिरण के बच्चे पर आवारा खूंखार कुत्तों ने हमला किया। इसमें  हिरण गंभीर रूप से घायल हो गया। कर्मचारियों ने पशु चिकित्सक के पास ले जाकर उपचार कराया। उपचार के दौरान हिरण के बच्चे की मौत हो गई। 

गांव वालों ने बताया कि आवारा कुत्ते खूंखार हो गए हैं। इनके पकड़ने की व्यवस्था वन विभाग की ओर से नहीं की जा रही। इसी के चलते आए दिन हिरण पर हमला हो जाता है। 

आपको बता दें कि नौगढ़ रेंज के पढौती उत्तरी वीट कंपार्टमेंट नंबर 11 के जंगल में शनिवार की सुबह करीब 7 बजे जंगल में विचरण कर रहे हिरन के बच्चे पर आवारा खूंखार कुत्तों ने हमला कर दिया। आसपास के खेतों में काम कर रहे किसानों ने किसी तरह भागकर हिरण के बच्चे को बचाने का प्रयास किया। गांव वालों के शोर मचाने पर आवारा खूंखार कुत्ते तो भाग गए लेकिन हिरण का बच्चा गंभीर रूप से घायल हो गया। 

उन्होंने इस घटना की सूचना मोबाइल से वन क्षेत्राधिकारी नौगढ़ दी। वन दरोगा गुरुदेव सिंह तथा बीट प्रभारी वनरक्षक गौरव पाठक मौके पर पहुंचे और राजकीय पशु चिकित्सालय ले जाकर पशु चिकित्सक को दिखाया। उपचार के दौरान थोड़ी देर में हिरण के बच्चे ने दम तोड़ दिया। 

इसके बाद हिरण के बच्चे के शव का पोस्टमार्टम किया गया और रेंज परिसर में ही गढ्ढा खोदकर दबा दिया गया। ग्रामीणों का कहना है कि आवारा कुत्तों को पकड़ने के लिए वन विभाग प्रयास नहीं कर रहा है। इसी के चलते आए दिन खूंखार कुत्ते हिरणों पर हमला करते रहते हैं।

वन क्षेत्राधिकारी रिजवान अली खान बोले
 आवारा कुत्तों के हमले में हिरण का बच्चा गंभीर घायल हो गया था। खून ज्यादा बह गया था, जिससे उसकी मौत हो गई।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*