जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
चंदौली में लोन लेकर काम करने वालों के लिए सबक देने वाली है यह खबर, हो जाइए होशियार

 ग्रामीणों ने एकजुट होकर ग्राम प्रधान व बैंक मैनेजर के खिलाफ जांच कर कार्रवाई की मांग की है और मामले की जांचकर गांव के लोगों के साथ न्याय करने की मांग की है।

 

लोन लेने वाले हो जाइए सावधान

जानिए ढ़ाई लाख के लोन पर 22 लाख की नोटिस

4 लाख के लोन पर 42 लाख का नोटिस

 परेशान हैं गांव वाले

चंदौली जिले के चहनियां ब्लॉक के खर्रा हंडा गांव में दर्जनों ग्रामीणों से बैंक लोन के नाम पर करोड़ों रूपये के गबन का मामला सामने आया है। लोन हजार और लाख रुपये में है तो नोटिस लाखों रुपये में आया है । कुछ ग्रामीण तो लोन लिए ही नहीं है फिर भी नोटिस भेज दिया गया है । इससे ग्रामीण परेशान है। इसकी शिकायत बड़ौदा यूपी बैंक ताराजीवनपुर में करने के बाद भी लगातार नोटिस आने से मानसिक रूप से ग्रामीण परेशान हैं।

खर्रा हंडा गांव के राजा राम, चंद्रिका, श्यामराज, विकास, अमित कुमार, बीनू, प्यारे राम, सन्दीप कुमार, कुला देवी, धर्मेंद्र सोनकर, चमन सोनकर, दिनेश कुमार, सुनील, अशोक, श्रवण कुमार, गुड्डू राम, सन्तोष आदि लोगों से किसी के नाम से होम लोन, भैंस, मुर्गी पालन तो किसी के नाम अन्य कार्यों के नाम पर हजारों रुपये के लोन के जगह लाखों रुपये की नोटिस आ गयी है।

 ग्रामीणों का आरोप है कि ग्राम प्रधान और ताराजीवनपुर स्थित बड़ौदा यूपी बैंक में पूर्व में रहे यहां बैंक मैनेजर इंद्रजीत सिंह के मिली भगत से यहां कुछ लोगों का ढाई लाख का ऋण स्वीकृत कराकर लोन कराया गया । किन्तु नोटिस 22 लाख का नोटिस आ रहा है । इसी प्रकार कुछ लोगों का भैस व मुर्गी पालन के नाम पर 4 लाख का लोन हुआ है, लेकिन 42 लाख का नोटिस आ गया है। 

नोटिस प्राप्त करने के बाद ऋणकर्ताओं द्वारा जिलाधिकारी कार्यालय चन्दौली, अग्रणी बैंक अधिकारी चन्दौली, थानाध्यक्ष अलीनगर को प्रार्थना पत्र प्रमाण सहित दिया गया, किन्तु कोई कार्यवाही नहीं हुई। इसके बाद ऋणकर्ताओ ने बड़ौदा यूपी बैंक ग्रामीण बैंक के प्रधान कार्यालय बुद्ध बिहार ब्यवसायिक योजना तारामंडल गोरखपुर उत्तर प्रदेश के यहां भी की है। वहां से जांच के आदेश भी लिखकर आया इसके बाद भी बार बार नोटिस मिलने से मानसिक रूप से परेशान हो रहे हैं।

 ग्रामीणों ने एकजुट होकर ग्राम प्रधान व बैंक मैनेजर के खिलाफ जांच कर कार्रवाई की मांग की है और मामले की जांचकर गांव के लोगों के साथ न्याय करने की मांग की है।

 

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*