जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
भारतमाला परियोजना में चंदौली से कोलकाता तक बनेगा नया एक्सप्रेस-वे, यह होगा रुट
चंदौली से कोलकाता तक एक्सप्रेस-वे के निर्माण के लिए प्रारंभिक प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जनपद में इसके लिए जमीन अधिग्रहण के साथ प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाने का काम तेजी से चल रहा है।
 

 भारतमाला परियोजना में बनेगा नया एक्सप्रेस-वे

चंदौली के 31 गांव होंगे प्रभावित

आठ लेन का बनाया जाएगा नया एक्सप्रेस-वे

आम तौर पर देखा जाता है कि चंदौली से कोलकाता पहुंचने में सड़क मार्ग से 13 से 14 घंटे का समय लगता है, लेकिन आने वाले दिनों में यह दूरी महज छह घंटे में तय की जा सकती है। सरकार की महत्वाकांक्षी भारतमाला परियोजना के कारण यह सुविधा चंदौली के लोगों को मिलेगी।

Bharatmala Express Way

बताया जा रहा रहा है कि उसके लिए चंदौली से कोलकाता तक एक्सप्रेस-वे के निर्माण के लिए प्रारंभिक प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जनपद में इसके लिए जमीन अधिग्रहण के साथ प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाने का काम तेजी से चल रहा है।

जानकारी के अनुसार भारतमाला परियोजना के अंतर्गत बनने वाला यह एक्सप्रेस वे 686 किमी लंबा व लगभग 100 मीटर चौड़ा यानी आठ लेन का बनाया जाएगा।  इससे उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड व बंगाल जैसे कई राज्य जुड़ेंगे। इसके निर्माण में लगभग 24,275 करोड़ की धनराशि खर्च होने की उम्मीद है। इस एक्सप्रेसवे के निर्माण का उद्देश्य बौद्धिक व कभी आर्थिक राजधानी रहे काशी को कोलकाता से सीधे तौर पर जोड़ना है। यह एक्सप्रेस वे झारखंड की राजधानी रांची से होकर जाएगा।

ऐसा होगा एक्सप्रेस-वे का रास्ता
चंदौली जिले की सीमा से शुरू होकर यह एक्सप्रेसवे भभुआ, सासाराम, औरंगाबाद, बोकारो, रांची व पुरुलिया होते हुए कोलकाता के लिए जाएगा। चंदौली जनपद में यह एक्सप्रेसवे लगभग 22 किमी लंबा होगा जबकि बिहार में इसकी लंबाई 159 किमी होने की बात कही जा रही है।

चंदौली के 31 गांवों से गुजरेगी सड़क
अभी तक मिली जानकारी के हिसाब से चंदौली जनपद में 22 किमी लंबा यह मार्ग 31 गांवों से होकर गुजरेगा। पीडीडीयू नगर तहसील के रेवसां से शुरू होकर यह मार्ग कठौड़ी, बरहुली, हीरामनपुर, लौंदा, देबई के अलावा सदर तहसील के शाहपुर, मद्धुपुर, बहेरा, खुरुहुजा, शिवपुर, अकोढ़ा कला, चनहटा, चुरमुली, सिकंदरपुर, गोरारी विशुनपुरा, गोवर्धनपुर, जगदीशपुर, नैनपुरा, हरनाथपुर, कांटा, परासी खुर्द, जलालपुर, टीरो, कोल्हई, बेदहा, सवैया महलवार, सवैया, पट्टीदारी व धरौली होते हुए बिहार में प्रवेश कर जाएगा।

 डीपीआर पर काम शुरू करने की तैयारी
पंडित दीन दयाल उपाध्याय नगर तहसील के उपजिलाधिकारी अविनाश कुमार का कहना है कि भारतमाला परियोजना के लिए एजेंसी के माध्यम से जमीनों को चिह्नित कराया जा रहा है। इसके बाद भारतमाला परियोजना का पूरा डीपीआर तैयार कराया जाएगा। डीपीआर तैयार होने बाद गजट प्रकाशित कर लोगों से दावा व आपत्ति मांगी जाएगी। यह कार्य अभी प्रारंभिक चरण में है।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*