जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
सदर सीओ देते हैं फरियादियों को धमकी, बताते हैं अपना एनकाउंटर का इतिहास
ग्राम प्रधान संघ के पदाधिकारी व पदुमनाथपुर ग्राम सभा के प्रधान रविकांत पांडे ने बताया कि शरीफ व्यक्ति को सीओ द्वारा काउंटर स्पेशलिस्ट बताकर धमकाने का मामला सामान्य नहीं है।
 

ग्राम प्रधान संघ सीओ के खिलाफ खोलेगा मोर्चा

सोमवार को एसपी से मिलेंगे लोग

सीओ के खिलाफ करेंगे कार्रवाई की मांग

चंदौली जनपद के सकलडीहा ब्लाक के बहोरीपुर मधुबन ग्राम प्रधान प्रतिनिधि राम प्रकाश पांडे उर्फ बंटी पांडे को सीओ द्वारा काउंटर स्पेशलिस्ट बता कर धमकाने का मामला अब तूल पकड़ने लगा है। प्रधान संगठन सीओ के खिलाफ एकजुट होकर कार्यवाही के लिए सोमवार को पुलिस अधीक्षक से मिलने की  रणनीति बना रहा है। जनता पर धौंस जमाने व डरा धमका कर फरियादियों को कार्यालय से भगाने का यह नया तरीका चंदौली के सदर सीओ ने निकाल रखा है।

आपको बता दें कि सकलडीहा ब्लाक के बहोरीपुर मधुबन गांव के ग्राम प्रधान उर्मिला देवी के पुत्र ग्राम प्रधान प्रतिनिधि राम प्रकाश उर्फ बंटी पांडे निजी मामले को लेकर शुक्रवार को पुलिस अधीक्षक अंकुर अग्रवाल से मिलने गए थे। इस दौरान एसपी साहब किसी कार्य में व्यस्त थे। उस दौरान ग्राम प्रधान प्रतिनिधि को सीओ रामवीर सिंह के यहां भेज दिया गया। सीओ सदर रामवीर सिंह जब बहोरीपुर प्रधान प्रतिनिधि का नाम सुनते ही आग बबूला हो गए और मेरठ से यहां तक के अपने इनकाउंटरों की लिस्ट बताकर ग्राम प्रधान प्रतिनिधि को धमकाने लगे। 

ग्राम प्रधान प्रतिनिधि का आरोप है कि सीओ सदर रामवीर सिंह ने अपने आप को काउंटर स्पेशलिस्ट बताते हुए मुझे रडार पर लेने की कई बार बात दोहरा कर भयभीत करते रहे थे। क्या मामला रहा यह नहीं बताएं लेकिन मुझे काउंटर स्पेशलिस्ट बताकर रडार पर लेने की बात बार बार कहते रहे।

अब तक मेरे ऊपर  107 /16 या 151 तक की कार्यवाही नहीं हुई है। हमारे जैसे शरीफ लोगों के साथ अपराधियों जैसा बर्ताव किया जा रहा है। एक राजपत्रिक अधिकारी को यह शोभा नहीं देता है। 

इस मामले को जब सकलडीहा ब्लाक ग्राम प्रधान संगठन के पदाधिकारियों ने सुना तो तत्काल शनिवार को रणनीति बनाते हुए सोमवार को एसपी से मिलने की बात कही है और ऐसे बदसलूकी करने वाले राजपत्रित अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई करने की मांग की है।

इस संबंध में ग्राम प्रधान संघ के पदाधिकारी व पदुमनाथपुर ग्राम सभा के प्रधान रविकांत पांडे ने बताया कि शरीफ व्यक्ति को सीओ द्वारा काउंटर स्पेशलिस्ट बताकर धमकाने का मामला सामान्य नहीं है। इस मामले को लेकर हम लोगों को एसपी सीएम एम तथा पीएमओ कार्यालय तक जाना पड़ेगा तो हम लोग जाएंगे। अपराधियों के यहां पुलिस नतमस्तक हो जाती है और शरीफ व्यक्तियों को धमकाने का कार्य करती है। ऐसे सीओ के खिलाफ कार्यवाही होनी चाहिए।

सीओ सदर रामवीर सिंह का यह रवैया नया नहीं है। वह अपने आप को एनकाउंटर व फटाफट कार्रवाई वाला अफसर बताकर कई फरियादियों पर धौंस जमाने की कोशिश करते हैं। एक बार वह इसी तरह से पीड़ित लॉकरधारियों से वह भिड़ गए थे, जिसमें काफी देर तक हंगामा चला था।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*