जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
चंदौली जिले को आईजीआरएस पोर्टल पर जिले को मिली 16वीं रैंक
इस बार आईजीआरएस की शिकायतों के गुणवत्तापूर्ण निपटारा में जिले को 16वां रैंक मिली है। इसे और बेहतर करने में जिला प्रशासन जुटा हुआ है।
 

कॉल सेंटर से आए फोन से कटा जिले का नंबर

पिछले महीने से सुधरी है रैंकिंग

टॉप 10 में आने के लिए जोर लगा रहे हैं साहब लोग

उत्तर प्रदेश शासन स्तर से शिकायतों के त्वरित एवं गुणवत्तापरक समाधान के लिए लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है। इस बार आईजीआरएस की शिकायतों के गुणवत्तापूर्ण निपटारा में जिले को 16वां रैंक मिली है। इसे और बेहतर करने में जिला प्रशासन जुटा हुआ है।

अगस्त 2022 में प्रदेश में अच्छी रैंकिंग के लिए जिला प्रशासन ने शिकायतों के निस्तारण में तेजी दिखाई है। हालांकि सीएम काल सेंटर से आए फोन पर संतोषजनक जवाब न मिलने व मुख्यमंत्री कार्यालय स्तर रैंडम गुणवत्ता परीक्षण में जनपद की मात्र दो शिकायतों की गुणवत्ता खराब पाए जाने के कारण अंक कट गये। इसके चलते उन्हें टॉप टेन की सूची से जगह नहीं मिल पाई। फिर भी आईजीआरएस के ताजा आंकड़ों में शिकायतों के निस्तारण में बेहतर सुधार आया है। लेकिन टॉप टेन की सूची में जगह ना मिलने से किए गए कड़ी मेहनत पर पानी फिर गया।

 जुलाई 2022 में चंदौली शिकायतों के निस्तारण में 64 वें पायदान पर था। डीएम ने सख्ती की तो निस्तारण में तेजी आई। आज जारी अगस्त माह की रैंकिग में चंदौली को प्रदेश में 16 वां स्थान मिला है। शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण होने पर रैंक में सुधार आया है। वर्तमान समय में एक भी मामले डिफाल्टर नहीं हैं। 

अपर जिलाधिकारी उमेश कुमार मिश्र ने बताया कि पिछले कई माह के सापेक्ष इस बार कड़ी मेहनत की गई थी। प्रदेश में आइजीआरएस रैकिंग में जनपद ने शानदार प्रदर्शन किया है। अगले माह में टॉप टेन की सूची में चंदौली का नाम शामिल करने का पूरा प्रयास किया जाएगा। बताया कि अब जनपद स्तर से फोन करके शिकायतों की क्रॉस चेकिंग की जाएगी एवं अधीनस्थ अधिकारियों के स्तर से निस्तारित प्रत्येक शिकायत की निस्तारण आख्या का परीक्षण किया जाएगा। ताकि जनपद सीएम काल सेंटर से आए फोन पर भी खरे उतरें।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*