जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
सुलह समझौता ने करने पर पूरे परिवार को जेल भेजने की धमकी दे रहे मारूफपुर चौकी इंचार्ज, यह है पूरा मामला
बलुआ इंस्पेक्टर ने ततपरता दिखाते हुए विभिन्न धाराओं में मुकदमा तो दर्ज कर लिया है, किन्तु मारूफपुर पुलिस चौकी की पुलिस गुरुवार को पुलिस चौकी पर बुलाकर मामले में सुलह समझौता के लिए दबाव बनाने लगी। 
 

बलुआ थानेदार से अलग राय रखते हैं चौकी प्रभारी

इंसाफ से ज्यादा धमकी देकर चलाते हैं पुलिस चौकी

देख लीजिए ताजा मामला

चंदौली जिले के बलुआ थाना क्षेत्र मारूफपुर चौकी अंतर्गत जमालपुर में जियुतिया के दिन एक दबंग पक्ष द्वारा गरीब परिवार को मारने के बाद लड़की को दौड़ाकर सरेआम लहूलुहान किया गया था। गुरुवार को मारूफपुर पुलिस द्वारा न्याय दिलाने के बजाय दबंग व्यक्ति से सुविधा शुल्क लेकर सुलह कराने का दबाव बनाने लगी है। पूरे परिवार को सुलह न करने पर दारोगा जी जेल भेजने की धमकी भी दे रहे हैं। 

         
चौकी क्षेत्र के जमालपुर गांव में 18 सितंबर को किसी बात को लेकर गांव के एक दबंग पट्टीदार द्वारा एक गरीब परिवार 50 वर्षीय पंचम यादव, 45 वर्षीय पत्नी संध्या देवी व 13 वर्षीय पुत्री अर्चना को जमकर मारा पीटा गया था। यही नहीं अर्चना को सड़क पर दौड़ाकर इस कदर पीटा की छाती पर गम्भीर चोटें आयीं हैं। उसके सीने पर चार टांके भी लगे हैं। हालात गम्भीर होने पर उसे जिला चिकित्सालय भी रेफर किया गया था।

मामले में बलुआ इंस्पेक्टर ने ततपरता दिखाते हुए विभिन्न धाराओं में मुकदमा तो दर्ज कर लिया है, किन्तु मारूफपुर पुलिस चौकी की पुलिस गुरुवार को पुलिस चौकी पर बुलाकर मामले में सुलह समझौता के लिए दबाव बनाने लगी। 

महिला संध्या देवी का आरोप है कि मेरे पूरे परिवार को पुलिस चौकी पर बुलाकर विपक्षियों से मोटी रकम लेकर चौकी इंचार्ज सुलह कराने के लिए दबाव बना रहे हैं। सुलह न करने पर जेल भेजने की धमकी दे रहे हैं। पुलिस के डर से परिजन भय के साये में जी रहे हैं।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*