जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
एंबुलेंसकर्मियों की सूझबूझ से एंबुलेंस में ही गूंजी नवजात बच्चे की किलकारी
एंबुलेंसकर्मियों की सक्रियता व तत्काल की गयी मदद से जच्चा-बच्चा दोनों की को सकुशल अस्पताल ले जाकर देखभाल करायी गयी।
 

102 एंबुलेंस में डिलीवरी

जच्चा-बच्चा दोनों सकुशल

एबुलेंसकर्मियों दिया सूझबूझ का परिचय

चंदौली जिले के मुगलसराय क्षेत्र के गंगेहरा गांव से एंबुलेंस तो सूचना आई थी कि प्रसव के लिए एक महिला को अस्पताल ले जाना है, जिसमें 102 एंबुलेंस मौके पर पहुंची। एंबुलेंस जब मरीज को लेकर वह हॉस्पिटल के लिए चली तो रास्ते में दर्द होने के कारण पायलट संतोष कुमार सिंह तथा ईएमपी पंकज कुमार सिंह द्वारा महिला का सफल प्रसव कराया गया। हालांकि इसमें जच्चा बच्चा दोनों सकुशल हैं। 

बता दें कि मुगलसराय क्षेत्र के गंगेहरा गांव से एक मरीज का डिलीवरी का केस मिलने के बाद संख्या यूपी 32 EG4818 द्वारा केस को अटेंड किया गया। जैसे ही मरीज को लेकर वह अस्पताल की तरफ चला तो रास्ते में ही मरीज सावित्री पत्नी दिलीप के पेट में दर्द होने लगा और प्रसव पीड़ा इतनी तेज थी कि वह बर्दाश्त नहीं कर पा रही थी, जिसको देखते हुए एंबुलेंसकर्मी व आशा की मदद से एंबुलेंस में ही प्रसव कराया गया। इसके बाद एंबुलेंसकर्मियों ने कहा कि जच्चा बच्चा दोनों ही सकुशल हैं।

एंबुलेंसकर्मियों की सक्रियता व तत्काल की गयी मदद से जच्चा-बच्चा दोनों की को सकुशल अस्पताल ले जाकर देखभाल करायी गयी। क्षेत्र के लोगों ने एंबुलेंसकर्मियों की तरीफ की। लोगों  का कहना था कि एबुलेंसकर्मियों की सूझबूझ से दोनों की जान बच गई ।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*