जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
माता ने जन्म दिया, पिता ने परवरिश किया, लेकिन धीना पुलिस के जवान ने दी मुखाग्नि
रेलवे ट्रैक पर मिली महिला की लावारिस लाश का पुलिस के जवानों ने बाकायदा अंतिम संस्कार करवा कर प्रशंसनीय पहल की है।
 

रेलवे ट्रैक पर मिली लावारिस महिला की लाश का अंतिम संस्कार

हरिश्चन्द्र घाट पर पुलिस ने किया दाह संस्कार 

उत्तर प्रदेश की पुलिस कई तरह के कार्यों के लिए चर्चा में रहती है। लेकिन अबकी बार चंदौली जिले की धीना थाना क्षेत्र की पुलिस एक शानदार मानवीयता की मिसाल पेश करने वाले काम को लेकर चर्चा में है। रेलवे ट्रैक पर मिली महिला की लावारिस लाश का पुलिस के जवानों ने बाकायदा अंतिम संस्कार करवा कर प्रशंसनीय पहल की है।

 आपको बता दें कि सोमवार को रेलवे ट्रैक पर बहोरा चंडील स्टेशन के पास एक महिला की लावारिस लाश मिली थी। लाश का पोस्टमार्टम कराकर पुलिस ने वाराणसी जिले के चर्चित हरिश्चंद्र घाट पर महिला को मुखाग्नि देकर बाकायदा रस्मोरिवाज के साथ अंतिम संस्कार किया है और अस्थियों को गंगा में विसर्जित कर दिया है।

आमतौर पर पुलिस प्रशासन पर गलत कार्यों को लेकर उंगली उठती रहती है, लेकिन वर्दी में कई लोग ऐसे भी हैं, जो ऐतिहासिक काम कर जाया करते हैं। हर एक के साथ प्रेम रखने वाले व लोगों को नेक काम के लिए प्रोत्साहित करने वाले धीना थानाध्यक्ष विपिन कुमार सिंह के सौजन्य से लावारिस लाश को महिला कांस्टेबल और कुछ अन्य कांस्टेबलों के साथ मिलकर अंतिम संस्कार के लिए भेजा गया। पुलिस ने मानवता की मिसाल पेश करते हुए अपनी जिम्मेदारी का लीक से हचकर निर्वहन किया है।

 धीना थानाध्यक्ष के नेतृत्व में पुलिस के इस काम की सराहना हो रही है। धीना पुलिस के मुखिया विपिन सिंह का कहना है कि हर व्यक्ति एक किस्म का नहीं होता है। हम जैसे पुलिस वाले भी समाज से ही बने हैं और समाज के लिए काम करने के लिए बनाए गए हैं। हमारी नौकरी समाज की सेवा के लिए है। 

पुलिस में चाहे बड़े स्तर का कोई अधिकारी हो या एक छोटा कांस्टेबल..हर कोई पहले मनुष्य है और हम सभी लोगों में मानवता होती है। हम लोग भी अपना घर परिवार छोड़ कर दूसरे जनपद में कार्य कर रहे हैं। यह जनपद व हमारे इलाके के लोग ही हमारा परिवार है। हम सभी लोग अपने इलाके को अपना परिवार मानकर सेवा करें तभी हमारा भी परिवार प्रफुल्लित रहता है और समाज का आशीर्वाद सदा हमारे साथ बना रहता है।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*