जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
बिना रजिस्ट्रेशन के चल रहा था अस्पताल, जांच करने गयी टीम पर तान दिया रिवॉल्वर
इस दौरान गाली गलौच और कालर पकड़ने की भी शिकायत मिली है। इतना ही नहीं विवाद बढ़ने पर उसने रिवाल्वर निकालकर जान से मारने की धमकी भी दी है।
 

बवाल बढ़ने पर जान बचाकर भागी स्वास्थ्य विभाग की टीम

नौगढ़ इलाके का है मामला

दो लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज 


चंदौली जिले के नक्सल प्रभावित नौगढ़ क्षेत्र में एक बगैर पंजीकरण के चल रहे अस्पताल की जांच करने गई स्वास्थ्य विभाग टीम के ऊपर रिवाल्वर तानने और धमकी देने का मामला संज्ञान में आया है। बताया जा रहा है कि शिकायत के बाद पुलिस ने 2 लोगों के खिलाफ एफ आई आर दर्ज करके कार्यवाही शुरू कर दी है।

 जानकारी के अनुसार नौगढ़ इलाके आशीर्वाद हॉस्पिटल बगैर पंजीकरण के संचालित हो रहा था। आज जब स्वास्थ विभाग की टीम वहां जांच करने के लिए पहुंची तो अस्पताल में ऑपरेशन के 5 मरीज मिले, लेकिन वहां मौके पर कोई चिकित्सक मौजूद नहीं था तथा अस्पताल के पास आवश्यक कागजात भी नहीं थे। इस दौरान स्वास्थ्य विभाग की टीम ने संचालक से अस्पताल बंद करने को कहा तो अस्पताल संचालक सुजीत कुमार यादव और सत्यनारायण यादव ने डॉक्टरों की टीम से वाद-विवाद करना शुरू कर दिया।

बताया जा रहा है कि इस दौरान गाली गलौच और कालर पकड़ने की भी शिकायत मिली है। इतना ही नहीं विवाद बढ़ने पर उसने रिवाल्वर निकालकर जान से मारने की धमकी भी दी है। इस दौरान मौके पर भारी भीड़ इकट्ठा हो गई तो स्वास्थ्य विभाग की टीम किसी तरह से वहां से जान बचाकर भागी और सीएचसी पर पहुंचकर थाना प्रभारी को मामले से अवगत कराया है।

 इस छापे की कार्यवाही में उपमुख्य चिकित्सा अधिकारी, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, सीएचसी प्रभारी डॉ अवधेश सिंह दोपहर 3:30 बजे के आसपास जांच के लिए आशीर्वाद हॉस्पिटल पहुंचे थे, जहां पर यह घटना हुई है।

 थाना प्रभारी ने बताया है कि स्वास्थ्य विभाग की टीम को धमकी देने के मामले में दो लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस में आगे की कार्यवाही कर रही है।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*