जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
ऐसा क्या हुआ कि अपनी संपत्ति बच्चों के लिए दान करने जा रही हैं डा. गायत्री महेश्वरी
चंदौली जिले के जिला मुख्यालय के पंडित कमलापति त्रिपाठी राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय की पूर्व प्राचार्या व हिन्दी साहित्य की एसोसिएट प्रोफेसर डा. गायत्री महेश्वरी ने अपनी चल संपत्ति में से 50 लाख रुपए की चल संपत्ति को डिग्री कॉलेज के होनहार विद्यार्थियों के वास्ते वसीयत करने की घोषणा की है
 

विधिक सुझाव के बाद वसीयत की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने की तैयारी कर रही हैं

होनहार विद्यार्थियों के वास्ते वसीयत करने की घोषणा कर दी

चंदौली जिले के जिला मुख्यालय के पंडित कमलापति त्रिपाठी राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय की पूर्व प्राचार्या व हिन्दी साहित्य की एसोसिएट प्रोफेसर डा. गायत्री महेश्वरी ने अपनी चल संपत्ति में से 50 लाख रुपए की चल संपत्ति को डिग्री कॉलेज के होनहार विद्यार्थियों के वास्ते वसीयत करने की घोषणा की है। उन्होंने वसीयत में पदेन वारिस के रुप में जिलाधिकारी और कमलापति डिग्री कालेज के प्राचार्य को जिम्मेदारी देने की सिफारिश की है। इसके लिए वह विधिक सुझाव के बाद वसीयत की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने की तैयारी कर रही हैं।

मीडिया से बातचीत के दौरान एसोसिएट प्रोफेसर डा. गायत्री महेश्वरी ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो वाराणसी मंडल के कमिश्नर को भी इसमें जोड़ा जा सकता है। पर उन्होंने भाजपा के मुगलसराय विधायक रमेश जायसवाल को भी जोड़ने की इच्छा जाहिर की। 

एसोसिएट प्रोफेसर डा. गायत्री महेश्वरी ने कहा कि उनके अचेतन मन में काफी दिनो से यह बात चल रही थी कि वह पं. कमलापति त्रिपाठी डिग्री कालेज में पढ़ने वाले गरीब व होनहार छात्र-छात्राओं के लिए कुछ करें। उनके हित में कुछ बेहतर करने की पहले के रूप में  अपनी चल संपत्ति में से 50 लाख रुपए की चल संपत्ति को डिग्री कॉलेज के होनहार विद्यार्थियों के वास्ते वसीयत करने की घोषणा कर दी है।

ऐसे साकार हुयी मन की योजना 
डा. गायत्री महेश्वरी ने कहा कि अपनी चल संपत्ति में से 50 लाख रुपए की चल संपत्ति को डिग्री कॉलेज के होनहार विद्यार्थियों के वास्ते वसीयत करने का मन 24 अप्रैल 2022 को कॉलेज में होनहार छात्रों को स्मार्टफोन वितरण के दौरान बना लिया था। कहा कि जब यह बात मेरे मन में यह बात आई तो इस दौरान मुगलसराय विधायक रमेश जायसवाल भी मौजूद थे।