जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
जानिए किन धाराओं में दर्ज हुआ है SHO व अन्य पर मामला, कैसे बनी पोस्टमार्टम के लिए लाश देने की बात
चंदौली जिले के सैयदराजा थाना पुलिस की ऊपर हत्या के आरोप के मामले में सैयदराजा थाना प्रभारी उदय प्रताप सिंह, संजय सिंह के साथ साथ  4 महिला कांस्टेबल व अन्य पुलिस बल के जवानों के खिलाफ तीन धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर पुलिस के लोगों पर भी कार्रवाई शुरू कर दी गयी
 

जवानों के खिलाफ तीन धाराओं में मुकदमा पंजीकृत

चंदौली जिले के सैयदराजा थाना पुलिस की ऊपर हत्या के आरोप के मामले में सैयदराजा थाना प्रभारी उदय प्रताप सिंह, संजय सिंह के साथ साथ  4 महिला कांस्टेबल व अन्य पुलिस बल के जवानों के खिलाफ तीन धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर पुलिस के लोगों पर भी कार्रवाई शुरू कर दी गयी है। 

FIR Agsinst SHO Saiyadraja and Others
 FIR Agsinst SHO Saiyadraja and Others

आपको बता दें कि सैयदराजा थाना क्षेत्र के मनराजपुर गांव में पुलिस द्वारा एक गैर जमानती वारंट के आरोपी और जिला बदर कन्हैया यादव के घर पर पहुंचकर उसके घर पहुंचकर एकबार फिर से छापेमारी करने की कोशिश की। पुलिस द्वारा दबिश देने के दौरान घर में कन्हैया की बेटी निशा व गुंजन ही मौजूद थीं। घर के लोगों का कहना है कि पुलिस ने छापेमारी के दौरान लड़कियों के साथ मारपीट की और इसी दौरान निशा की मौत हो गयी जबकि गुंजन घायल हो गयी। 

पुलिस थाने में तहरीर देते हुए कन्हैया के लड़के विजय यादव ने बताया कि पुलिस ने 1 मई को उसको गिरफ्तार करके 151 में चालान कर दिया था, जब वह शाम को जमानत पर छूटा तो उसे पुलिस की हरकत व घर की हालत के बारे में पता चला। इसके बाद जब वह घर गया तो घर में निशा की लाश पड़ी थी और गुंजन घायल अवस्था में मिली।

इसके बाद मामला भड़क गया। खबर मिलते ही सपा के पूर्व सांसद रामकिशुन यादव मौके पर सबसे पहले पहुंचे और फिर धीरे धीरे सपा विधायक व अन्य नेता वहां जा धमके। इसके बाद मौके की गंभीरता को देखते हुए जिलाधिकारी संजीव सिंह, कप्तान संजीव अग्रवाल,  आईजी वाराणसी रेंज के सत्यनारायण भी पहुंचे। मौजूद सपा नेताओं के की मांग के बाद सैयदराजा थाना प्रभारी उदय प्रताप को निलंबित करने तथा सैयदराजा थाना प्रभारी उदय प्रताप सिंह, संजय सिंह, 4 महिला कांस्टेबल सहित अन्य पुलिस बल के खिलाफ धारा 323, 452 तथा 304 के तहत भारतीय दंड विधान के अंतर्गत मुकदमा पंजीकृत कर आगे की कार्यवाही की गई। जिसके बाद परिजनों द्वारा मृतिका का शव पोस्टमार्टम के लिए पुलिस को सौंपा गया। 

वहीं पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर अंतिम संस्कार की कार्यवाही  की जा रही है। वहीं गांव में हालात को काबू पाने के लिए मौके पर फोर्स तैनात रखी गयी है।