जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
सूचना न देने पर बीडीओ व तीन ग्राम सचिवों पर 25-25 हजार का लगाया गया जुर्माना
जिले में राज्य सूचना आयोग ने चहनिया विकासखंड के खंड विकास अधिकारी (बीडीओ) समेत तीन ग्राम पंचायत सचिवों पर 25-25 हजार रुपये का अर्थदंड लगाया है। यह कार्रवाई डस्टबीन के मूल्य निर्धारण और प्रधानों द्वारा कराए गए कार्यों की सूचना न देने पर की गई है।
 

जनसूचना देने में आनाकानी करने पर कार्रवाई

अब बीडीओ व सचिवों को देना होगा जुर्माना

चंदौली जिले में राज्य सूचना आयोग ने चहनिया विकासखंड के खंड विकास अधिकारी (बीडीओ) समेत तीन ग्राम पंचायत सचिवों पर 25-25 हजार रुपये का अर्थदंड लगाया है। यह कार्रवाई डस्टबीन के मूल्य निर्धारण और प्रधानों द्वारा कराए गए कार्यों की सूचना न देने पर की गई है।

बताया जा रहा है कि विकासखंड के भलेहटा गांव निवासी दीपेश सिंह ने सूचना के अधिकार (आरटीआई) के तहत विकासखंड में लगाए गए डस्टबीन के मूल्य निर्धारण और पूरा गणेशपुर गांव के प्रधान द्वारा 2015 से 2020 तक कराए गए विकास कार्यों की जानकारी मांगी थी। वहीं रामगढ़ गांव के निवासी अनुज कुमार सिंह ने नैढ़ी ग्राम प्रधान द्वारा 2015 से 2020 तक और रामगढ़ के ग्राम प्रधान द्वारा 2010 से 2015 तक कराए गए विकास कार्यों की जानकारी मांगी थी। 

इसकी सुनवाई के दौरान सूचना आयोग ने बीडीओ और इन गांवों के ग्राम सचिवों से कार्यों का विवरण मांगा था। पर यहां के सचिवों ने इसे न देना मुनासिब समझा। अब इसी लापरवाही पर राज्य सूचना आयोग ने उन पर 25-25 हजार रुपये का अर्थदंड लगाया है।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*