जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
जले तेल का इस्तेमाल कर समोसे मिठाई बनाने वालों की खैर नहीं, जाग गया है विभाग
जिले में एक ही खाद्य तेल का बार-बार इस्तेमाल कर लोगों की सेहत खराब करने वाले मिठाई के दुकानदारों के खिलाफ खाद्य सुरक्षा विभाग कार्रवाई करने का मन बना चुका है। कई महीने तक सो रहा विभाग दशहरा व दीपावली के पहले एक बार फिर से जाग गया है।
 

त्यौहार आते ही जाग उठे हैं अफसर

5 दुकानों का सैंपल लेकर शुरू की कार्रवाई

यह दी है चेतावनी

चंदौली जिले में एक ही खाद्य तेल का बार-बार इस्तेमाल कर लोगों की सेहत खराब करने वाले मिठाई के दुकानदारों के खिलाफ खाद्य सुरक्षा विभाग कार्रवाई करने का मन बना चुका है। कई महीने तक सो रहा विभाग दशहरा व दीपावली के पहले एक बार फिर से जाग गया है। विभाग की टीम ने पांच दुकानों में जांच करने के बाद सभी दुकानों के सैंपल लिया है। साथ ही कहा है कि यदि जांच में यदि एक ही तेल का कई दफे इस्तेमाल करने की बात पायी गयी तो इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

आपको बता दें कि जिले के कई दुकानदार अधिक मुनाफा कमाने के चक्कर में एक ही खाद्य तेल का कई बार इस्तेमाल करते हैं। इससे समोसे-पकौड़ी समेत अन्य खाद्य पदार्थ तैयार करते हैं। इसका लोगों की सेहत पर बुरा असर पड़ रहा है। इसको लेकर शासन-प्रशासन गंभीर हो गया है। शासन के निर्देश पर खाद्य सुरक्षा विभाग ने ऐसे दुकानदारों की जांच शुरू कर दी है। 

बताया जा रहा है कि गुरुवार को मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी चंद्रकांत वाजपेयी के नेतृत्व में खाद्य विभाग की टीम ने चंदौली मुख्यालय स्थित आकाश गंगा स्वीट, रामलाल स्वीट, पचफेड़वां मिठाई की दुकान, आयुष नमकीन रामनगर इंडस्ट्रीयल एरिया फेज वन व महेश्वर गृह उद्योग रामनगर इंडस्ट्रीयल एरिया फेज वन से कुल पांच सैंपल लिए। सभी सैंपल को जांच के लिए भेजा जा रहा है।

जिले के  खाद्य सुरक्षा अभिहित अधिकारी आरएल यादव ने बताया कि सैंपल को जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा जाएगा। खाद्य तेल में गड़बड़ी मिलने पर संबंधित दुकानदार के खिलाफ सख्त कार्रवाई तय है।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*