जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
कोल व्यापारियों के यहां छापा, जीएसटी अफसरों ने की छानबीन
डिप्टी कमिश्नर एके सिंह और जेपी मौर्या के नेतृत्व में 6 सदस्य टीम में व्यापारी के स्टॉक रजिस्टर तथा अन्य कागजातों की जांच पड़ताल की है, जिसमें उनको कई तरह की खामियां हुई मिली है।
 

जीएसटी विभाग के अधिकारियों का छापा

तमाम तरह की खामियां उजागर

फर्म पर जुर्माना लगाने की सूचना

चंदौली जिले की चंधासी कोयला मंडी में एक व्यापारी के यहां गुरुवार को जीएसटी विभाग के अधिकारियों ने छापा मारा। छापेमारी के दौरान कोयले के स्टाक सहित अन्य कागजातों की देर रात छानबीन की। इस दौरान मंडी के कई व्यापारी अपना शटर बंद कर कर भाग। निकले हालांकि छापेमारी के बारे में अधिकारियों ने मीडिया को कोई खास जानकारी नहीं दी लेकिन यह बताया जा रहा है कि तमाम तरह की खामियां मिली हैं और फर्म पर जुर्माना भी लगाया जा रहा है।

 जानकारी के अनुसार चंधासी कोयला मंडी में आए दिन जांच के लिए आने वाले अफसरों की जानकारी मिलती है। मौके पर जाकर कई विभागों की टीमें जांच किया करती हैं। गुरुवार को भी एक कोल व्यापारी के यहां दोपहर 3 बजे के आसपास पहुंच कर जांच पड़ताल की है।

 बताया जा रहा है कि डिप्टी कमिश्नर एके सिंह और जेपी मौर्या के नेतृत्व में 6 सदस्य टीम में व्यापारी के स्टॉक रजिस्टर तथा अन्य कागजातों की जांच पड़ताल की है, जिसमें उनको कई तरह की खामियां हुई मिली है। फिलहाल इस बारे में अधिकारियों ने मीडिया को कोई और जानकारी नहीं दी, लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी में फर्म पर जुर्माना लगाने की बातें प्रकाश में आ रही हैं। बताया गया कि जांच पड़ताल जारी है। खामियों के हिसाब से बड़ी कार्यवाही होगी। बाद में उसे अवगत कराया जाएगा।

वहीं चंधासी कोयला मंडी में जीएसटी विभाग के अफसरों की छापेमारी के बाद कोल व्यापारियों में रोष दिखाई दिया। व्यापारियों ने आरोप लगाया कि इसके कारण व्यापार प्रभावित हो रहा है। एसोसिएशन के अध्यक्ष सतीश जिंदल ने अधिकारियों के साथ जांच पड़ताल में सहयोग की बात कही और कहा कि कोल व्यापारियों का उत्पीड़न नहीं होना चाहिए। किसी व्यापारी को जांच के नाम पर अनावश्यक रूप से परेशान नहीं किया जाना चाहिए।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*