जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
कुंडा खुर्द को मिलेगी गंगा कटान से राहत, 9 करोड़ की परियोजना का शिलान्यास
चंदौली जिले के कई इलाकों में दशकों से गंगा कटान का खतरा बना रहता है। उन्हीं में से एक कटान का दंश झेल रहे कुंडा खुर्द गांव के लोगों के लिए शुक्रवार को गंगा कटान रोकने के लिए जिओ टेक्सटाइल ट्यूब कटर का शिलान्यास करके नयी पहल की गयी
 
गंगा किनारे करीब 1900 मीटर लंबे दायरे में कुल 39 कटर बनाए जाने हैं

चंदौली जिले के कई इलाकों में दशकों से गंगा कटान का खतरा बना रहता है। उन्हीं में से एक कटान का दंश झेल रहे कुंडा खुर्द गांव के लोगों के लिए शुक्रवार को गंगा कटान रोकने के लिए जिओ टेक्सटाइल ट्यूब कटर का शिलान्यास करके नयी पहल की गयी। विधायक रमेश जायसवाल ने शिलान्यास के मौके पर कहा कि इससे गंगा की धारा से होने वाली कटान को रोकने में काफी मदद मिलेगी। 

Ganga Katan Textile Tube Cutter MLA Ramesh Jaiswal

बताया जा रहा है कि इस पूरी योजना पर नौ करोड़ रुपये खर्च होगा। गंगा किनारे करीब 1900 मीटर लंबे दायरे में कुल 39 कटर बनाए जाने हैं। शिलान्यास के बाद ग्रामीणों में खुशी  का माहौल देखा जा रहा है। कुंडा खुर्द से लेकर कुंडा कला पंप कैनाल तक करीब 1900 मीटर लंबे इस ट्यूब कटर के बनने से करीब पांच गांवों को फायदा होगा और गंगा कटान से निजात मिलेगी। इस दूरी के बीच 50-50 मीटर की दूरी पर कुल 39 ट्यूब कटर बनेंगे। शुक्रवार को शिलान्यास के साथ ही नई टेक्नोलॉजी के तहत गंगा कटान को रोकने का कार्य शुरू कर दिया। बंधी प्रखंड के सहायक अभियंता राजेश यादव ने बताया कि इस पर 8.99 करोड़, 14 हजार रुपए खर्च किए जाएंगे। उनहोंने बताया कि छह महीने में काम पूरा करा लिया जाएगा। 


कहा जा रहा है कि कटान के समाधान से लगभग 6500 लोगों के जान माल की सुरक्षा होगी। गांव से गुजर रही एचटी लाइन और कुंडाकला पंप कैनाल के अपस्ट्रीम एवं डाउनस्ट्रीम में हो रहे कटान को नियंत्रित किया जा सकेगा। प्राथमिक विद्यालय, कुंडाकला, 22 पक्के मकानों, 26 कच्चे मकानों और गांव के पक्के संपर्क मार्ग को कटान से बचाया जा सकेगा। करीब 19 हेक्टयर कृषि योग्य भूमि की सुरक्षा होगी। 

Ganga Katan Textile Tube Cutter MLA Ramesh Jaiswal

इस मौके पर विधायक ने कहा कि गंगा कटान से काफी दिनों से लोग परेशान थे। लोगों की समस्या को ध्यान में रखते हुए और उनके निस्तारण के लिए इस कार्य का शिलान्यास हुआ है। छह महीने में यह कार्य पूरा हो जाएगा। लोगों की जानमाल की सुरक्षा के साथ कृषि योग्य भूमि का भी बचाव होगा। 

हर वर्ष बाढ़ के दौरान नियामताबाद ब्लॉक के कुंडा खुर्द, कुंडा कला, मौजा सुल्तानीपुर, शकूराबाद और कुंडाकला पंप कैनाल तक सैकड़ों एकड़ भूमि गंगा में समा जाती थी। यह समस्या 30 वर्षों से भी ज्यादा समय से थी। 2021 के बाढ़ में कटान से कुंडा खुर्द गांव की मुख्य सड़क, मंदिर और पीपल का पेड़ भी गंगा में समा गया था। कटान अब बस्ती की ओर बढ़ रहा था। इसको लेकर गांव के लोगों ने कई बार जिलाधिकारी, सांसद, विधायक से शिकायत की पर समस्या का समाधान नहीं हो सका था। गांव के बुजुर्गों की माने तो कटान से अभी तक आधा गांव गंगा में समा चुका है। 2021 में हुए भीषण कटान के बाद मौके पर स्थानीय सांसद डॉ. महेंद्रनाथ पांडेय निरीक्षण के लिए पहुंचे थे। उन्होंने वादा किया था कि जल्द ही इसका समाधान होगा। आखिरकार शुक्रवार को मुगलसराय विधायक रमेश जायसवाल ने इसका शिलान्यास कर दिया। 

कार्यदायी संस्था सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग 8.99 करोड़ रुपये से गंगा कटान को रोकने के लिए जियो टेक्साइल ट्यूब कटर का निर्माण कार्य कराएगा। निर्माण कार्य इस वर्ष बाढ़ आने से पूर्व यानि 22 अक्टूबर 2022 तक पूरा हो जाएगा।

 शिलान्यास के मौके पर कुंडा खुर्द के प्रधान भईयालाल यादव, कुंडा कला के प्रधान अनिल चौहान, पूर्व जिपं सदस्य याहीया खान बब्बन, लालता प्रजापति, मुखराम निषाद, राजनाथ यादव, विभाग के एई राजेश कुमार सिंह, सतीश कुमार, बृजेश प्रजापति, सुशील कुमार, राजेश यादव, शिव शंकर पटेल, संजय कनौजिया, भैयालाल प्रधान, अनिल सिंह चौहान प्रधान, राजेश यादव, महेंद्र यादव, रवद्रिं सिंह, अभय पटेल आदि लोग उपस्थित रहे।