जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime
ब्लैक लिस्टेड टैंकरों को तेल न भरने देने पर हंगामा, काफी देर तक भारत पेट्रोलियम पर प्रदर्शन
अधिकारियों के रवैए से नाराज ट्रांसपोर्टरों ने सोमवार को सरेसर स्थित भारत पेट्रोलियम डिपो में प्रदर्शन किया।
 

टैंकर मालिकों ने किया हंगामा

भारत पेट्रोलियम के अधिकारियों का कर रहे विरोध

ब्लैक लिस्टेड करने के खिलाफ दे रहे दलील 

चंदौली जिले के अलीनगर थाना इलाके में स्थित भारत पेट्रोलियम तेल डिपो के ट्रांसपोर्टरों ने हड़ताल शुरू कर दी है। इससे पूर्वांचल के 12 जिलों में तेल की आपूर्ति प्रभावित होने लगी थी। ट्रांसपोर्टर टैंकरों के हंगामे से काफी देर तक तेल की लोडिंग व अनलोडिंग प्रभावित रही। अधिकारी कुछ टैंकरों को ब्लैक लिस्टेड किए जाने का हवाला दे रहे हैं तो ट्रांसपोर्टर अपनी अलग तरीके की दलील दे रहे थे। इसी बात को लेकर आपस में विवाद चल रहा है। हड़ताल की सूचना के बाद पहुंची अलीनगर थाना पुलिस ने गेट पर खड़े टैंकर को हटवाया। इसके बाद डिपो में तेल की लोडिंग अनलोडिंग शुरू हो पाई।

 बताया जा रहा है कि अधिकारियों के रवैए से नाराज ट्रांसपोर्टरों ने सोमवार को सरेसर स्थित भारत पेट्रोलियम डिपो में प्रदर्शन किया। इस दौरान गेट संख्या 1 पर टैंकर खड़ा करके अपना विरोध प्रदर्शित किया। इससे डिपो में  टैंकरों के आने जाने में परेशानी हुई और तेल के लोडिंग व अनलोडिंग का काम काफी देर तक ठप हो गया, जिससे काफी देर तक मौके पर हंगामे की स्थिति बनी रही।

 भारत पेट्रोलियम के कर्मचारियों ने जब इसकी सूचना पुलिस को दी तो पुलिस मौके पर पहुंचकर टैंकरों को गेट से हटाने का काम किया। इसके बाद जाकर तेल की लोडिंग व अनलोडिंग शुरू हो पाई। अधिकारियों का कहना है कि कुछ टैंकरों को ब्लैक लिस्ट किया जा रहा है। इसकी वजह से उन्हें अंदर प्रवेश की अनुमति नहीं दी जा रही है। इसी बात को लेकर मालिक व ट्रांसपोर्टर नाराज हैं। वहीं ट्रांसपोर्टरों का कहना है कि जिन वाहनों को ब्लैक लिस्टेड किया जा रहा है उन वाहनों को कोर्ट ने रिलीज कर दिया है। अब  अधिकारी बेवजह इसकी दलील देकर टैंकर मालिकों को परेशान कर रहे हैं।

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*