जिले का पहला ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टलMovie prime

पुतला फूंकने की तैयारी देख पुलिस के हाथ पांव फूले, रंग लाया सुंदरकांड व हनुमान चालीसा

पुलिस दो पुतले को देखकर बैकफुट पर चली गई और पूरे मामले को 1 सप्ताह के भीतर निस्तारित करते हुए पीड़ित लॉकरधारियों की मदद करने की बात कहने लगी।
 

प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री व वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण की हुयी आरती पूजा

डीएम ईशा दुहन व एसपी अंकुर अग्रवाल की उतारी आरती

पीड़ित लॉकरधारियों को मनाते रहे अरविंद यादव व शेषधर पांडेय


चंदौली जिले के इंडियन बैंक पर पीड़ित लॉकरधारियों द्वारा किया जा रहा अनिश्चतकालीन धरना प्रदर्शन आज उस समय रंग लाया जब पुलिस प्रशासन ने पिछले 6 महीने से बैंक के खिलाफ दर्ज मुकदमे में 1 सप्ताह के भीतर सकारात्मक कार्यवाही करने का आश्वासन देने के बाद कार्रवाई करने के लिए तैयार हो गयी। मौके पर पहुंचे चंदौली कोतवाली के पुलिस इंस्पेक्टर और तीनों मामलों के विवेचना अधिकारी अरविंद यादव और सैयदराजा थानाध्यक्ष शेषधर पांडेय ने पीड़ित लॉकरधारियों को इस बात का आश्वासन दिया कि एक सप्ताह के भीतर चंदौली कोतवाली में बैंक के खिलाफ लॉकरधारियों द्वारा दर्ज कराए गए सारे मामलों का गुणवत्ता पूर्वक निस्तारण करते हुए कार्यवाही कर दी जाएगी।

Indian Bank Locker Loot

 इसके साथ ही साथ बैंक प्रबंधन से लॉकरधारियों की जायज मांग को दिलवाने की पूरी कोशिश की जाएगी। तब जाकर पीड़ित लॉकरधारियों ने अपना अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन एक सप्ताह तक के लिए स्थगित कर दिया।  
इसके पहले बैंक प्रबंधन और पुलिस के अधिकारी दबाव बनाकर बैंक की शाखा को खुलवाना चाहते थे, लेकिन लॉकरधारियों के आक्रामक रवैया को देखकर बैंक प्रबंधन और पुलिस को बैकफुट पर जाना पड़ा। इतना ही नहीं देर शाम तक पुलिस लॉकरधारियों के साथ मान मनौव्वल में जुटी रही। 

इसके पहले लॉकरधारियों ने बैंक पर बैनर पोस्टर लगाकर सुंदरकांड के पाठ के साथ साथ प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री व वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के साथ साथ डीएम ईशा दुहन व एसपी अंकुर अग्रवाल की आरती पूजा की, ताकि इन लोगों पर कोई असर पड़े। सुंदरकांड व हनुमान चालीसा का पाठ खत्म होने के बाद पुलिस के दारोगा व इंस्पेक्टर आकर बैंक मैनेजरों के दबाव के बाद बैंक पर आकर बैंक को खुलवाने की जबरन कोशिश करने लगे, लेकिन  लॉकरधारी पुलिसकर्मियों पर नाराज हो गए थे और उन्होंने बैंक पर पुतला फूंकने की तैयारी भी कर ली।  पुलिस दो पुतले को देखकर बैकफुट पर चली गई और पूरे मामले को 1 सप्ताह के भीतर निस्तारित करते हुए पीड़ित लॉकरधारियों की मदद करने की बात कहने लगी। इसीलिए लॉकरधारियों ने इस मामले को 1 सप्ताह के लिए टाल दिया है।

Indian Bank Locker Loot

लॉकरधारियों ने कहा है कि पुलिस प्रशासन के द्वारा 23 जनवरी दिन सोमवार तक इस मामले में सकारात्मक कार्यवाही नहीं की जाती है तो 24 जनवरी को एक बार फिर से लॉकरधारी बैंक में अनिश्चितकालीन प्रदर्शन करेंगे। उसके बाद किसी भी आश्वासन पर कोई चर्चा नहीं होगी। 

आज प्रदर्शन करने वालों में संघर्ष समिति की अध्यक्ष रेखा सिंह, रचना सिंह, प्रभा सिंह, रिंकू कुमारी, कीर्ति सिंह, चुनमुन सिंह, श्रीकांत सिंह, विजय प्रताप सिंह, गौतम तिवारी, अमित गुप्ता, लोकनाथ सिंह, आरके सिंह एडवोकेट, अश्विनी सिंह समेत एक दर्जन से अधिक लॉकरधारी मौजूद थे।
 

चंदौली जिले की खबरों को सबसे पहले पढ़ने और जानने के लिए चंदौली समाचार के टेलीग्राम से जुड़े।*